Input your search keywords and press Enter.

शिवहर : पुलिस के साथ मुठभेड़ करने वाला अपराधी का सरगना गिरफ्तार

डीबीएन न्यूज/शिवहर(आदित्य):15 जून 2018 को पिपराढी थाना के कुअमा में पिपराढी थाना पुलिस एवं अपराधियों के साथ मुठभेड़ हुई थी जिसमें अपराध कर्मी पिपराढी थानाध्यक्ष राकेश कुमार एवं उनके साथ प्रतिनियुक्त सशस्त्र बल के सिपाही पर गोली एवं बम से प्रहार कर जान मारने का प्रयास किया था तथा पिपराढी थाना की पुलिस गाड़ी लेकर भाग गया था.

पुलिस अधीक्षक शिवहर ने तुरंत सीतामढ़ी एवं मुजफ्फरपुर पुलिस का सहयोग लिया और अपराध कर्मी को पीछा किया जाता रहा अंत में सीतामढ़ी जिला के रुन्नीसैदपुर थाना क्षेत्र में अपराध कर्मी पिपराढी थाना कि सरकारी गाड़ी छोड़कर भाग गया रूनी सैदपुर थाना की पुलिस ने पिपराढी थाना कि सरकारी गाड़ी को बरामद कर लिया था.


Widget not in any sidebars

शिवहर पुलिस ने तत्काल ही मामले को गंभीरता से अनुसंधान प्रारंभ किया और एफएसएल की टीम, स्वान दस्ता टीम, बम निरोधक दस्ता को भी घटनास्थल पर मंगवा कर अनुसंधान प्रारंभ किया गया.

थानाध्यक्ष पिपराढी राकेश कुमार ने घटनास्थल पर ही घटना में शामिल तीन अपराध कर्मी एवं एक अपराधी को संरक्षण दाता के पहचान कर लिया था. शेष संलिप्त अपराध कर्मी को 24 घंटे के अंदर सत्यापन कर विशेष टीम गठित कर लगातार उसकी गिरफ्तारी हेतु प्रयास किया गया. इसी क्रम में पुलिस महानिरिक्षक मुजफ्फरपुर प्रक्षेत्र मुजफ्फरपुर के द्वारा शिवहर सीतामढ़ी एवं मुजफ्फरपुर की पुलिस को मिलाकर एक अंतर जिला छापामारी दल बनाया गया.

Loading...

अपराधी के संरक्षण दाता गणेश सिंह साकिन कुअमा को दिनांक 15 जून 2018 को ही गिरफ्तार कर न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया था.

पुलिस अधीक्षक संतोष कुमार ने प्रेस वार्ता कर बताया है कि अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी राकेश कुमार, पुलिस निरीक्षक इंस्पेक्टर गोरख राम, पुलिस अवर निरीक्षक राकेश कुमार, पुलिस अवर निरीक्षक सुजीत कुमार ,पुलिस अवर निरीक्षक विजय कुमार यादव ,पुलिस अवर निरीक्षक राजेश चौधरी ,तकनीकी शाखा के सिपाही मनीष कुमार भारती द्वारा लगातार अपराध कर्मी को रैंकिंग की जा रही थी और आज मंगलवार को बिट्टू सिंह पिता गणेश सिंह ग्राम कुअमा थाना पिपराही को लोडेड देसी पिस्तौल एवं मोबाइल फोन के साथ ग्राम मीनापुर बलहा से परशुरामपुर जाने वाली पथ पर गिरफ्तार कर लिया गया.

पुलिस अधीक्षक ने बताया है कि पूछताछ के दौरान उन्होंने अपनी संलिप्तता इस घटना में स्वीकार किया है तथा अपने गिरोह के अपराधी को अपने घर में ठहरा कर अपराध की योजना बनाने की बात भी स्वीकार किया है. अब तक के जांच के आधार पर इस घटना में ऐसे अपराध कर्मी शामिल होने की बात सामने आई है जो पूर्व में कई बड़ी नक्सली घटना में शामिल रहे हैं.वर्तमान में इस गिरोह के द्वारा अपराधी घटना को अंजाम देने की तैयारी थे जो इस जिले की पुलिस की सक्रियता के कारण उसके नापाक मंसूबे को ध्वस्त कर दिया गया.

इस कांड में संलिप्त सभी अपराध कर्मी की पहचान कर ली गई है. बिट्टू सिंह से पूछताछ की जा रही है. पूछताछ में और कई तथ्य एवं साक्ष्य पुलिस को हाथ आने की संभावना है.शेष अपराधी की गिरफ्तारी हेतु लगातार छापेमारी जारी है.

प्रेस वार्ता के दौरान एसडीपीओ राकेश कुमार ,पिपराढी थानाध्यक्ष राकेश कुमार ,श्यामपुर भटहा थाना अध्यक्ष सुजीत कुमार, तरियानी थानाध्यक्ष इंस्पेक्टर गोरखराम सहीत पुलिसकर्मी मौजूद थे.


Widget not in any sidebars

Leave a Reply

Your email address will not be published.