Input your search keywords and press Enter.

शराबबन्दी का हाल:-कहीं पति तो कहीं भैंसुर को शराब के नशे में महिलाएं भेजवाई जेल….

डीबीएन न्यूज/मनेर(पंकज दुबे):-सूबे बिहार में भले हीं शराबबंदी है, पर शराब मिलना पहले से आसान हो गया है. इस बात की जानकारी लगभग शासन-प्रशासन और पूरे अवाम को है.

गैर कानूनी है तो पुलिस जेल भी भेज रही है,पिछले दिनों बिहटा के पैनाठी गांव की धानु नाम की महिला ने अपने शराबी पति शंकर पासवान को घरेलू हिंसा से परेशान हो कर जेल भेजवाई थी. वहीं बुधवार को भी पहली घटना शराब मामले में बिहटा के जिनपुरा गाँव के शिवजी शर्मा के पुत्र सुमन शर्मा को भभहु ने पुलिस को सूचना दी कि उसका जेष्ठ शराब के नशे में रोजाना अशांति मचाता है.

Loading...

Widget not in any sidebars

सूचना पाकर बिहटा थाना के दारोगा अभिषेक प्रताप सिंह फौरन पहुँच कर शराबी को गिरफ्तार कर लिया. दूसरी घटना मनेर के नीलकंठ टोला गोरैया स्थान निवासी अजीत कुमार को पत्नी अंजली देवी ने मनेर पुलिस को सूचना देकर शराब के नशे में पति को जेल भेजवाई. पीड़ित महिला का कहना है कि रोज शराब पीकर घर में उसका पति व जेष्ठ मारपीट और हंगामा करता था. मैं परेशान होकर जेल भेजवाई.दोनों महिलाओं ने शराबबंदी को सराहा है.पीड़ित महिलाएं कहती है कि घरेलू हिंसा में शराब अहम भूमिका निभाता है. पहले पुलिस शराब मामले को गंभीरता से नहीं लेती थी .शराबबंदी के बाद सभी जागरूक हो रहे हैं.

तु डाल-डाल मैं पात-पात की नीति पर पुलिस और शराब तस्करों का खेल चल रहा है.एक तरफ पुलिस इन देशी-विदेशी शराब माफियाओं को रंगे हाथ पकड़ कर हजारों- हजार लीटर शराब को नष्ट कर रही है तो वहीं दूसरे तरफ अगली खेप बाजार में पहुंच भी रही है. कहीं बात लीक हो जाती हैं तो पुलिस माफिया को धर-दबोच लेती है.

बुधवार को मनेर पुलिस को सूचना मिलने पर गश्ती के दौरान दो शराब तस्करों को पकड़ा. पकड़ा गया तस्कर राजेन्द्र सिंह का पुत्र चंद्रशेखर कुमार छिहंतर गाँव का है और रसूलपुर गांव निवासी प्रमोद कुमार माली के पुत्र रवि राज है. इनके पास से 750ml के 6 बोतल इंमपीरियल ब्लू और 180ml के मैकडेवल्स 80 बोतल जप्त किया.इनका काला रंग का डिस्कॉभर BR01BB-9561 भी जप्त किया.मनेर पुलिस ने दोनों को बिहार उत्पाद अधिनियम 2016 के तहत शराब के नशे में भेजा जेल दिया है.


Widget not in any sidebars

Leave a Reply

Your email address will not be published.