Input your search keywords and press Enter.

हैरान रह गए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार जब उनके सामने बैठा युवक बोला-सर मुझे ब्लैक फंगस है

बिहारवासियों के लिए सोमवार को जनता दरबार की शुरुआत हो गई. करीब पांच साल बाद नीतीश कुमार के सामने अपनी-अपनी समस्या के साथ बड़ी संख्या में लोग पहुंचे. जनता दरबार में मुख्यमंत्री कार्यक्रम में उस वक्त सभी सतर्क हो गए जब एक युवक ने मुख्यमंत्री से कहा कि सर, मुझे ब्लैक फंगस है. सभी लक्षण ब्लैक फंगस वाला ही है.

मुख्यमंत्री ने तुरंत स्वास्थ्य विभाग के अपर मुख्य सचिव को फोन लगाया. कहा- अरे भाई एक नौजवान है, कह रहा ब्लैक फंगस है.तुरंत उस युवक को प्रत्यय अमृत के पास भेजा गया.अमृत ने देर शाम बताया कि युवक की आइजीआइएमएस में जांच करायी गयी. उसे ब्लैक फंगस नहीं है.

कागज पर चल रहा अस्पताल, यह सुन अपर मुख्य सचिव से सीएम ने बात की

सुपौल जिले के राघोपुर प्रखंड स्थित राघोपुर पंचायत से पहुंचे एक युवक ने मुख्यमंत्री से यह शिकायत की कि उनके यहां कागज पर उप स्वास्थ्य केंद्र चल रहा है. कागज पर ही ओपीडी है और हाजिरी भी. मुख्यमंत्री ने कहा कि ऐसे कैसे होगा? मुख्यमंत्री ने तुरंत स्वास्थ्य विभाग के अपर मुख्य सचिव प्रत्यय अमृत से बात की. पता चला कि भवन नहीं होने की वजह से पंचायत भवन में उप स्वास्थ्य केंद्र चल रहा.औरंगाबाद के कुटुंबा का भी इसी तरह का एक मामला पहुंचा.शिकायतकर्ता ने बताया कि प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पर डाक्टर नहीं आते.स्वास्थ्य केंद्र की दीवार गिर गयी है.केंद्र भी नहीं चलता.