Input your search keywords and press Enter.

प्रशांत किशोर के आगे झुके सुशील मोदी

बिहार के उपमुख्यमंत्री और बीजेपी के वरिष्ठ नेता सुशील मोदी अब प्रशांत किशोर के सामने झुकते नजर आ रहे है. नए साल में जेडीयू नेता प्रशांत किशोर से तल्खी दूर होने की उम्मीद जताते हुए कहा कि ‘जो बीत गई सो बीत गई.’

जेडीयू नेता प्रशांत किशोर और उनके बीच तल्खी के बारे में पूछे जाने पर सुशील मोदी ने कहा कि  ‘जो बीत गई सो बीत गई.’ उन्होंने उम्मीद जताई कि एनडीए खेमे से कटुता, द्वेष और अविश्वास दूर होगा.

नववर्ष के मौके पर अपने आवास पर अतिथियों का स्वागत करते हुए उपमुख्यमंत्री ने आशा जताई कि राज्य में लोग उसी उत्साह से वोट करेंगे जैसा उन्होंने लोकसभा चुनाव में दिखाया था, जब गठबंधन को 40 में से 39 सीटों पर जीत मिली थी.

नववर्ष के मौके पर वह क्या संदेश देना चाहेंगे, पत्रकारों द्वारा यह पूछे जाने पर सुशील कुमार मोदी ने कहा, ‘‘कामना है कि नया साल बिहार के लोगों के लिए शांति और समृद्धि लाए. लोग एनडीए को वैसा ही आशीर्वाद दें जैसा पिछले साल संसदीय चुनाव में दिया था.’’

बता दें कि सुशील मोदी ने सोमवार को अपने ट्वीट में पीके पर तंज कसते हुए लिखा था, 2020 का विधानसभा चुनाव प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के नेतृत्व में लड़ा जाना तय है. सीटों के तालमेल का निर्णय दोनों दलों का शीर्ष नेतृत्व समय पर करेगा. उन्होंने आगे लिखा, कोई समस्या नहीं है, लेकिन जो लोग किसी विचारधारा के तहत नहीं, बल्कि चुनावी डाटा जुटाने और नारे गढ़ने वाली कंपनी चलाते हुए राजनीति में आ गए, वो गठबंधन धर्म के विरुद्ध बयानबाजी कर विरोधी गठबंधन को फायदा पहुंचाने में लगे हैं. एक लाभकारी धंधे में लगा व्यक्ति पहले अपनी सेवाओं के लिए बाजार तैयार करने में लगता है, देशहित की चिंता बाद में करता है.