Input your search keywords and press Enter.

‘का नीतीश चच्चा जी..! अंतरात्मा अभिओ जागी की ना’

nitish_kumar

फ़ाइल फ़ोटो

बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री और नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव जोकीहाट उपचुनाव जीत से कुछ ज्यादा ही उत्साहित नजर आ रहे है. तेजस्वी यादव ने जदयू की हार पर सोशल मीडिया पर मजे लेते हुए पोस्ट शेयर किया है.

का नीतीश चच्चा जी..! अंतरात्मा अभिओ जागी की ना….कि अभिओ मोदीजी के डर से अंतरात्मा सुतले रही?

चुप काहे बाड़ऽ चच्चा..? ई बचवा तऽ सभे चुनऊवे जीतऽता, कहँवा गईल तोहार चमक??

अब समझ मे आ गइल की 2015 में केकरा नाम प वोट मिलल रहे?

इ तs ट्रेलर हईं..शुरूआत हईं, फ़िल्म बाक़ी बा..

Loading...

इसके अलावा तेजस्वी यादव ने ईवीएम पर भी सवाल उठाया है. कहा कि लगातार 3 उपचुनावों में जीत के बावजूद अपने अनुभव के आधार पर हम ईवीएम को हटाकर दोबारा बैलेट पेपर से वोटिंग कराने की माँग करते है. भाजपाई राज में EVM को सर्दी, खाँसी, ज़ुकाम, डेंगू और लू लगने का बीमारी शुरू हो गया है. EC बतायें, EVM ख़राब होने पर वोट BJP को ही क्यों जाता है?

कल तेजस्वी यादव ने प्रेस कांफ्रेस कर कहा था कि तेजस्वी ने कहा, ‘यह अवसरवाद पर लालूवादी की जीत है. धनशक्ति पर जनशक्ति की जीत है. नीतीश कुमार ने पूरी ताकत लगा दी, लेकिन इसके बावजूद जनता ने उन्हें सबक सिखा दिया.’

नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि इस चुनाव में जहर बांटने और तलवार बांटने वालों की हार हुई है. उन्होंने कहा कि जोकीहाट से राजद की 41,500 से ज्यादा वोटों से हमारी जीत हुई है. उन्होंने तंज कसते हुए पूछा कि नीतीश जी के चेहरे का कमाल कहां गया? जेडीयू को 2015 में जो 71 सीटें आई थी वो नीतीश के चहेरे का नहीं बल्कि लालू प्रसाद की देन है. आरजडी उपचुनावों में राजद की ये लगातार तीसरी जीत है और ये हार नीतीश कुमार के लिए बड़ा सबक है.


Widget not in any sidebars

Leave a Reply

Your email address will not be published.