Breaking News
November 16, 2018 - एन0आई0टी0 पटना को आप सब मिलकर टाॅप ग्रेड के स्थान पर पहुॅचायेंगे:- मुख्यमंत्री
November 15, 2018 - डाॅ0 राजेंद्र प्रसाद केंद्रीय कृषि विश्वविद्यालय टॉप टेन यूनिवर्सिटी में शुमार होगा:-नीतीश कुमार
November 15, 2018 - आरसीपी सिंह के बयान से सबकुछ साफ़, कुशवाहा की विदाई तय
November 15, 2018 - खुलकर कुशवाहा के समर्थन में उतरे अरुण कुमार
November 15, 2018 - सुशील मोदी पर शांत नहीं हुआ कुशवाहा का गुस्सा, पीएम मोदी को भी लपेटा
November 15, 2018 - इस कारण डरे तेजस्वी यादव सीसीटीवी कैमरे से
November 15, 2018 - अपने अधिकार के लिए जान की बाजी लगा देंगे : भागवत शर्मा
November 15, 2018 - जासूसी कांड पर मांझी ने दिया बयान, अविलंब सीसीटीवी कैमरा हटाए नीतीश
November 15, 2018 - तेजस्वी ने नीतीश पर लगाया जासूसी का आरोप, जाने पूरा मामला
November 15, 2018 - लॉ एंड ऑर्डर को ले नेता प्रतिपक्ष ने नीतीश सरकार पर उठाए सवाल

बैठक के बाद तेजस्वी ने बोला बीजेपी पर हमला कहा- SC/ST एक्ट से न हो कोई छेडछाड़

शेयर कर और लोगों तक पहुंचाए


आगामी 2019 लोकसभा चुनावों को लेकर सभी सियासी दलों ने तैयारी शुरू कर दी है. इसी कड़ी में बिहार की मुख्य विपक्षी पार्टी राजद की अहम बैठक आज पूर्व सीएम राबड़ी देवी के आवास पर बैठक संपन्न हुई. इस बैठक में पार्टी के सभी प्रमुख नेता शामिल रहे. तेजस्वी के अध्यक्षता में राजद के वरिष्ट नेताओं के बीच हुई इस बैठक में कई निर्णय लिए गये.

जिसकी जानकारी नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने बैठक के बाद खुद ही प्रेस कांफ्रेंस कर के दी. उन्होंने कहा, SC/ST एक्ट से कोई छेडछाड़ नहीं किया जाय. बीजेपी सरकार SC/ST एक्ट को 9वीं अनुसूची से दूर रखी है. और आरक्षण को चतुराई से समाप्त करना चाहती है. कहने के लिए आरक्षण 27 प्रतिशत है, जबकि वर्तमान में 17 प्रतिशत तक ही आरक्षण का लाभ सभी को मिल रहा है. फिर उन्होंने बीजेपी पर हमले को तेज करते हुए कहा कि बीजेपी पिछड़ा-दलितों में फूट डालने की कोशिश हो रही है. इनके चालाकी को पिछड़े भी समझ रहे है और अगड़े भी समझ रहे है. साथ ही हमारी पार्टी इनकी असलियत सभी के सामने लाने का काम करेगी.

वहीं, तेजस्वी ने सवर्णों का भारत बंद को बीजेपी और आरएसएस का एजेंडा बताया और सवर्ण आरक्षण के मुद्दे पर साफ़-साफ़ जवाब न देते हुए बीजेपी सरकार को जमकर कोसा. साथ ही कहा कि बीजेपी का यही मनोकामना है कि वर्ण व्यवस्था को कायम करों और जो पूर्व में व्यवस्था चल रही थी उसी को फिर लाओं. आगे तेजस्वी यादव ने कहा, सत्ता में बैठे लोग समाज को बांटने का काम कर रहे है. सत्ता वाले लोग ही जातिवादी करने का काम कर रहे है.

खास बात यह है कि पूर्व में तेजस्वी यादव ने आबादी के हिसाब से भागीदारी देने का बयान दे चुके थे. जिसे आज उन्होंने फिर से दूहराया भी और आज भी उन्होंने आबादी वाले बात को दोहराया. ऐसे में यही माना जा रहा है कि राजद भाजपा और कांग्रेस का रण नीति को समझ लेना चाहती है. कि उन दोनों पार्टी का स्टैंड आरक्षण को लेकर आगे क्या होता है. फिर राजद अपना रुख साफ़ करना चाहती है. गौरतलब हो कि बिहार विधानसभा चुनाव के दौरान राजद प्रमुख लालू प्रसाद ने गरीब सवर्णों के लिए 10 फीसद आरक्षण का पक्ष लिया था.

शेयर कर और लोगों तक पहुंचाए

About author

Related Articles