Input your search keywords and press Enter.

ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने वालों को मिलेगी बड़ी राहत, अब RTO में नहीं काटने पड़ेंगे चक्कर

ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने के लिए आवदेकों को अब आरटीओ में अलग-अलग दफ्तरों में चक्कर नहीं काटने पड़ेंगे। गाजियाबाद के सारथी भवन में लाइसेंस की कैटेगरी के अनुसार अलग-अलग कैबिन तैयार कर दिए गए हैं। आवेदकों को एक कैबिन में ही सत्यापन और बायोमैट्रिक की सुविधा मिल सकेगी।

आपको बता दें कि संभागीय परिवहन विभाग की ओर से लाइसेंस और वाहन संबंधित सेवाओं के लिए ऑनलाइन आवेदन करना होता है, लेकन दस्तावेज सत्यापन, फॉर्म जमा करना और बायोमैट्रिक प्रक्रिया के लिए कार्यालय में उपस्थित होना होता है। लाइसेंस संबंधित कार्यों के लिए सारथी भवन में जाकर अलग-अलग खिड़कियों पर दस्तावेज का सत्यापन और बायोमैट्रिक प्रक्रिया होती थी।

अभी तक सारथी भवन के हॉल में छह खिड़कियों पर काम होता था। इसमें तीन खिड़कियों पर अलग-अलग वर्ग के लाइसेंस आवेदन दस्तावेजों का सत्यापन और तीन खिड़कियों पर बायोमैट्रिक प्रक्रिया होती थी। ऐसे में लर्निंग लाइसेंस के आवेदक या अन्य आवेदक किसी अन्य खिड़की की कतार में खड़े हो जाते थे। नंबर आने पर उनको ज्ञात होता था कि वह गलत खिड़की पर हैं। ऐसे में आवेदक और विभाग के कर्मचारियों भी समय खराब होता था।