Input your search keywords and press Enter.

सड़क की जमीन पर अवैध निर्माण को लेकर ग्रामीणों ने खोला मोर्चा

पदमाकर सिंह लाला, समस्तीपुर

  • सड़क जाम कर दिया धरना
  • स्थानीय जनप्रतिनिधियों व प्रशासन के खिलाफ की नारेबाजी
  • विघापतिनगर प्रखंड अंतर्गत मऊ धनेशपुर दक्षिण पंचायत स्थित वार्ड संख्या-1अवस्थित सड़क के बीचोंबीच एक पक्ष द्वारा अवैध रूप से घर निर्माण कार्य शुरू किए जाने के मामले ने तूल पकड़ लिया.अवैध निर्माण को लेकर मंगलवार की सुबह गोलबंद दर्जनों ग्रामीणों ने मोर्चा खोल दिया.आक्रोशित ग्रामीणों ने पहले अवैध निर्माण कार्य पर रोक लगा दिया.वहीं सड़क पर बैठ कर उसे जाम कर दिया.ग्रामीणों ने स्थानीय जनप्रतिनिधियों व प्रशासनिक अधिकारियों की मिलीभगत का आरोप लगाते हुए रोषपूर्ण धरना-प्रदर्शन शुरू कर दिया.सूचना पर पहुंची पुलिस ने पहल कर जाम हटाया.

    Loading...

    प्राप्त जानकारी के अनुसार मऊ धनेशपुर दक्षिण पंचायत स्थित वार्ड नंबर एक की पंच मंजू देवी द्वारा सरकारी सड़क को अतिक्रमित कर अवैध निर्माण कार्य शुरू किया गया था.इसी को लेकर मंगलवार की सुबह गोलबंद दर्जनों ग्रामीणों ने सड़क जाम व रोषपूर्ण धरना-प्रदर्शन शुरू कर दिया.बाद में सभी थाने पर पहुंच कर विरोध जताया व अवैध निर्माण पर रोक लगाने की मांग की.

    ग्रामीण मिथिलेश कुमार रौशन, अशोक साह, मो. फैज आलम, मो. शाहजहां, सुधीर साह, आशा देवी आदि ने बताया कि वार्ड की पंच मंजू देवी द्वारा सरकारी सड़क की जमीन पर अवैध कब्जा कर लिए जाने की शिकायत पूर्व में जन शिकायत कोषांग समस्तीपुर में परिवाद दायर कर किया गया था.इस आलोक में डीएम ने सीओ को अवैध कब्जा हटाने का आदेश दिया था.बावजूद अब तक अवैध कब्जा मुक्त नहीं कराया जा सका.नतीजतन अल्पसंख्यक समुदाय के लोंगों को मस्जिद में नमाज अदा करने के लिए जाने सहित अन्य लोंगों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है.मौके पर परिवादी अशोक कुमार साह, प्रशांत कुमार गुप्ता, बसंत कुमार साह, पंकज कुमार,मो. असगर, प्रेम कुमार साह, कोकिला देवी, आशा देवी, सुरेंद्र साह, रमेश कुमार, महावीर साह,सीमा कुमारी, पंकज कुमार, मो. मुख्तार आलम, मो. सद्दाम आलम, देवनारायण साह, मो. दिलदार आलम आदि मौजूद रहे.थानाध्यक्ष मुकेश कुमार ने बतलाया कि अवैध निर्माण की शिकायत मिली है.इस बाबत छानबीन शुरू करते हुए तत्काल काम पर रोक लगा दी गई है.

    Leave a Reply

    Your email address will not be published.