Input your search keywords and press Enter.

सोलर स्ट्रीट लाइट से जगमग होंगे बिहार के गांव,15 अप्रैल से कार्य शुरू करने का निर्देश

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने गुरुवार को सात निश्चय-2 के अंतर्गत मुख्यमंत्री ग्रामीण सोलर स्ट्रीट लाइट योजना की समीक्षा बैठक की. बैठक में सीएम ने सोलर लाइट योजना का क्रियान्वयन 15 अप्रैल से शुरू करने का निर्देश दिया है. नीतीश कुमार ने कहा कि इसकी शुरुआत होने से गांवों के रास्ते और महत्वपूर्ण स्थान सोलर लाइट से रोशन होंगे. शाम से सुबह तक सोलर स्ट्रीट लाइट जलेगी, इससे गांवों की तस्वीर बदलेगी और लोग बहुत प्रसन्न होंगे. मुख्यमंत्री कहा कि मुख्यमंत्री ग्रामीण सोलर स्ट्रीट लाइट योजना को लेकर लोगों में काफी उत्साह है. प्रायोगिक तौर पर विभाग इसे सभी जिलों के कम से कम एक-एक पंचायत में शुरू कराएं.

मुख्यमंत्री ने कहा कि सोलर स्ट्रीट लाइट लगाने के साथ-साथ उसके रख-रखाव और सतत् निगरानी की बेहतर व्यवस्था हो. हमलोगों का उद्देश्य है कि सोलर स्ट्रीट लाइट के माध्यम से लोगों को लगातार लाभ मिलता रहे. उन्होंने कहा कि इसकी निर्माण इकाई को राज्य में ही स्थापित करने के लिए उद्यमियों को प्रेरित करें ताकि सोलर लाइट के अवयवों का उत्पादन भी यहीं हो, साथ ही स्थानीय लोगों को रोजगार मिले. उन्होंने कहा कि सोलर लाइट में प्रयुक्त हो रहीं सामग्रियों की गुणवत्ता बेहतर हो, इसे भी सुनिश्चित करें.

सात निश्चय पार्ट 2 के अंतर्गत बिहार के सभी गांव में सोलर स्ट्रीट लाइट लगाया जाना है, जिसको लेकर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने आज सात निश्चय पार्ट 2 की समीक्षा बैठक की. बैठक में सीएम नीतीश कुमार ने विभाग के अधिकारियों को यह निर्देश दिया है कि 15 अप्रैल से गांवों में सोलर स्ट्रीट लाइट लगाने का काम शुरू किया जाए .

बैठक में किए गए फैसलों के बारे में पंचायती राज मंत्री सम्राट चौधरी ने कहा कि स्ट्रीट लाइट लगाने की प्रक्रिया लगभग पूरी कर ली गई है. तत्काल मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की तरफ से निर्देश दिया गया है कि सभी जिलों में डेमो के तौर पर एक-एक पॉइंट स्ट्रीट लाइट का लगाया जाए. इस योजना पर 2000 करोड़ से अधिक की राशि खर्च होगी. प्रत्येक वॉर्ड में 10-10 स्ट्रीट लाइट लगाई जाएंगी. ये सभी स्ट्रीट लाइटें काफी हाईटेक होंगी. 72 घंटे तक यदि सूर्य का प्रकाश नहीं मिलेगा तब भी ये लाइट जलेंगी. साथ ही इन लाइटों में सेंसर लगा होगा. जिससे शाम होते ही यह ऑन हो जाएंगी और सुबह की रोशनी मिलते ही सेंसर सारी लाइटें बंद कर देंगे. अप्रैल में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार इस योजना का उद्घाटन करेंगे और इसी वित्तीय वर्ष में बिहार के सभी गांव में सोलर स्ट्रीट लाइट लगा दी जाएंगी. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की अध्यक्षता में हुई बैठक में बिहार सरकार के पंचायती राज मंत्री सम्राट चौधरी और ऊर्जा मंत्री बिजेंद्र यादव सहित कई विभाग के अधिकारी शामिल हुए.