Input your search keywords and press Enter.

नीतीश जी के सुशासन में दृढ़ निश्चय के साथ आगे बढ़ते बिहार में योजनाओं पर और तेजी से काम होगा- PM मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज वीडियो कांफ्रेसिंग के माध्यम से 14,260 करोड़ रूपये की लागत से 350 कि0मी0 लम्बी 9 राष्ट्रीय राजमार्ग परियोजनाओं का शिलान्यास किया। इसके साथ ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज हर गांव में ऑप्टिकल फाइबर द्वारा इंटरनेट सुविधा का शुभारंभ किया। इस कार्यक्रम में राज्यपाल फागू चैहान के साथ मुख्यमंत्री श्री नीतीश कुमार भी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से शामिल हुए।

हर गांव में ऑप्टिकल फाइबर द्वारा इंटरनेट सुविधा की शुरुआत होने से मार्च 2021 तक बिहार के सभी 45,945 गांवों को इंटरनेट सुविधा मिलेगी। ‘भारत नेट’ ऑप्टिकल फाइबर से हर गांव को जोड़ा जाएगा। 14,260 करोड़ रुपये की लागत से 350 किलोमीटर लंबी 9 राष्ट्रीय राजमार्ग परियोजनाओं के शिलान्यास के अंतर्गत फोरलेन बख्तियारपुर -रजौली सड़क (पैकेज-2), फोरलेन बख्तियारपुर-रजौली सड़क (पैकेज -3), फोरलेन आरा-परारिया सड़क फोरलेन परारिया-मोहनिया सड़क, फोरलेन नरेनपुर-पूर्णिया सड़क, 6-लेन रामनगर-कन्हौली (पटना रिंग रोड ) सड़क, महात्मा गांधी सेतु के समानांतर नए फोरलेन पुल का निर्माण, कोसी नदी पर नए फोरलेन पुल का निर्माण एवं गंगा नदी पर विक्रमशिला सेतु के समानांतर नए फोरलेन पुल का निर्माण की योजनाएं शामिल हैं।

इस अवसर पर अपने संबोधन में मुख्यमंत्री श्री नीतीश कुमार ने कहा कि बिहार के लिए विभिन्न योजनाओं के शुभारंभ एवं शिलान्यास के लिए मैं प्रधानमंत्री जी को धन्यवाद देता हूं। उन्होंने कहा कि .षि के क्षेत्र में आपने जो नए दो कानून बनाये हैं, यह गांव एवं किसान के हित में है। किसान जहां चाहें अपनी उपज बेच सकते हैं। वर्ष 2006 में बिहार में हमलोगों ने ए0पी0एम0सी0 (.षि उपज बाजार समिति) एक्ट को समाप्त किया था। राज्यसभा में कल जो कुछ हुआ है वह बहुत ही गलत है। इसकी जितनी निंदा की जाए वो कम है।

ए0पी0एम0सी0 से काफी दिक्कत थी। बिहार में ए0पी0एम0सी0 एक्ट हटाते वक्त बिहार विधानमंडल में भी विपक्ष ने कुछ ऐसा ही किया था। ये लोग चर्चा से भाग गए थे। आपने पूरे देश में ए0पी0एम0सी0 एक्ट को हटाया है, इससे किसान पूरे देश में कहीं पर और किसी को भी अपनी उपज बेच सकते हैं। नये कानून के तहत कांट्रैक्ट फार्मिंग से किसान लाभान्वित होंगे। ये काम आम लोगों के हक में हुआ है। इसका लाभ सभी लोगों को मिलेगा। लोगों की आमदनी बढ़ेगी। इसके लिए आपको बधाई देते हैं। बिहार में पैक्स (प्राइमरी एग्रीकल्चर कॉपरेटिव सोसाइटी) के माध्यम से अनाज खरीद का क्रियान्वयन किया जाता है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि बिहार में पी0एम0 पैकेज के तहत 50 हजार करोड़ रुपये से ज्यादा सड़क एवं पुलों के निर्माण पर खर्च किये जा रहे हैं। पैकेज के अतिरिक्त भी कुछ योजनाओं की आज शुरुआत की गई है। उन्होंने कहा कि आज हर गांव में ऑप्टिकल फाइबर योजना का शुभारंभ किया गया है। इससे बिहार के 45,945 गांवों तक इंटरनेट सुविधा उपलब्ध हो सकेगी। ऑप्टिकल फाइबर से जोड़ने से कम्युनिकेशन का लाभ मिलेगा। इससे लोगों को काफी सुविधा होगी। बिहार में आठ करोड़ से अधिक लोगों के पास मोबाइल हैं। डिजिटल प्रगति का लाभ यहां सभी को मिलेगा।
मुख्यमंत्री ने कहा कि गंगा नदी पर विक्रमशिला सेतु का निर्माण वर्ष 2002 में पूर्ण हुआ था।

विक्रमशिला सेतु पर वाहनों के ज्यादा आवागमन के कारण जाम लगा रहता था। उसके एप्रोच रोड को हमलोगों ने फोरलेन कराया। आज विक्रमशिला पुल के समानांतर एक नये फोरलेन पुल का शिलान्यास कराया जा रहा है। इससे लोगों को काफी सहूलियत होगी। उन्होंने कहा कि बख्तियारपुर-रजौली फोरलेन के निर्माण से पटना से रांची का आवागमन और सुगम होगा। आरा-मोहनियां फोरलेन सड़क का निर्माण भी किया जा रहा है। नरेनपुर-पूर्णिया फोरलेन के निर्माण से झारखंड और बिहार के बीच आवागमन और आसान होगा। गंगा नदी पर पटना में महात्मा गांधी सेतु के समानांतर नये फोरलेन पुल का निर्माण कराया जा रहा है।

कोसी नदी पर बिहपुर से वीरपुर के बीच फुलौत घाट पर पुल का निर्माण कराया जा रहा है। इससे भी लोगों को आवागमन में काफी सुविधा होगी। उन्होंने कहा कि पटना में रिंग रोड बनाने की शुरुआत हो गई है। ये बहुत ही उपयोगी है। इसका एक हिस्सा रामनगर से कन्हौली तक 6 लेन के निर्माण की आज शुरुआत हो गयी है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि जुलाई के अंत में गांधी सेतु का एक सिरा बना कर तैयार हुआ था। उस समय माननीय मंत्री श्री नितिन गडकरी जी से अनुरोध किया गया था कि एन0एच0 80 मोकामा से लखीसराय होते हुए मुंगेर तक को फोरलेन में, मुजफ्फरपुर से बरौनी तक एन0एच0 28 को फोरलेन में, खगड़िया से पूर्णिया तक की सड़क को फोरलेन में, एवं मुजफ्फरपुर से सीतामढ़ी-सोनवर्षा एन0एच0 77 को फोरलेन में परिवर्तित किया जाए। मुझे खुशी है कि इसकी भी स्वी.ति हो गई है।