Input your search keywords and press Enter.

बार-बार हो रहे रेल दुर्घटना पर रेल मंत्री को एक बिहारी का खुला पत्र…

railways prabhu

railways prabhu


कल रात को आंध्र प्रदेश और ओडिशा बॉर्डर पर स्थित विजयनगरम के कुनेरू स्टेशन के पास रात करीब 11 बजे बड़ा ट्रेन हादसा हो गया, जगदलपुर-भुवनेश्वर हीराखण्ड एक्सप्रेस अपने पटरी से उतर गई इस हादसे में करीब 36 लोगों की मौत हो गई है और जबकि 50 से ज्यादा लोग घायल बताये जाते हैं. रेलमंत्री सुरेश प्रभु ने इस ट्रेन हादसे में शिकार हुए लोगों के परिजनों को दो लाख रुपये और घायलों को 50,000 रुपये मुआवजे का एलान किया है.

इस दुर्घटना के बाद पीएम ने ट्विट कर कर गहरी सवेदना प्रकट किया है अपने ट्विट में कहा है ”ट्रेन एक्सीडेंट में घायल सभी लोगों की जल्दी ठीक होने की प्रार्थना करता हूं. पहले कानपुर में दो बड़े रेल हादसे और अब एक बार फिर रेल हादसा यह देश के परिवहन के सबसे बड़े तंत्र पर सवाल खड़े करता है. रेल मंत्री जी आप हर बार ट्विट कर जनता को जबाब देते हैं जरा सोशल मीडिया से बाहर आयेंगें या फिर रेल यात्रिओं के मौत पर ट्विट करते ही रह जायेंगे.

Loading...

बार-बार रेल हादसे से लोग अब रेल का सफर करने से डरने लगे हैं अब तो रेलवे के क्रिया-कलाप पर भी सवाल खड़ा होने लगा है पिछले दो तीन साल से आपके मंत्रालय ने बड़े पैमाने पर भर्ती को रोक रखा है रेलवे के ढांचे को बनाने और सुरक्षा संरक्षा के नाम पर तो क्या यहीं है आपका सुरक्षा. आप अपने इस मंत्रालय में निरन्तर घटित हो रही दुर्घटनाओं को गम्भीरता से ले. देश में रेलवे के वर्तमान ढांचा को सुदृढ़ और सुरक्षित बनाना सर्वोच्च प्राथमिकता आपकी होनी चाहिए लेकिन शायद लगता है कि इसमें सफलता मिलती नहीं दिख रही है.

मोतिहारी में अपराधियों के गिरफ्तारी के बाद यह पता चला है कि आईएसआई रेल दुर्घटना करा रही है यह जानते हुए भी रेलवे को अपनी सुरक्षा के प्रति सतर्क नहीं नजर आ रही है इस दुर्घटना में भी यहीं संदेह जताया जा रहा है. जहां देश के एक हिस्से में मंहगा बुलेट ट्रेन दिया जा रहा है जिसमे हजारो करोड़ रुपया लगाया जा रहा है हर जगह वाई-फाई लगाया जा रहा है ये सब यात्री के जान से ज्यादा कीमती नहीं है. रेलवे सर्ज प्राइसिंग से दुगनी-चौगुनी रकम वसूलने में लगा है, तो इसके बदले में सुरक्षा के इंतज़ाम जस में ढिलाई क्यू? रेलवे हर बार दुर्घटनाओं के बाद मुआबजा का एलान कर दिया जाता है लेकिन इस मुआबजा का क्या करेंगें जिन घरों के चिराग हमेशा के लिए बुझ जाता है.आखिर कब तक यह चलता रहेगा मंत्री जी आपको जबाब तो देना ही होगा?
विकर्ण राज: एडिटर डेली बिहार न्यूज़

[related_posts_by_tax title=”रिलेटेड न्यूज़:” posts_per_page=”3″]
इस न्यूज़ को शेयर करे और कमेंट कर अपनी राय दे.
[addtoany]

Leave a Reply

Your email address will not be published.