Input your search keywords and press Enter.

अपनी बात

parbind kumar Founder dailybiharnews.in

मैं जानता हूँ, हिंदी से हम बिहारियों को कितनी तकलीफ़ होती है

14 सितम्बर को हम हिंदी दिवस मनाते है और मैं हिंदी से जुड़ी अपने दिल और जीवन की कुछ बातों को आपके सामने रखना चाहता हूँ. यह बात सच है कि बिहार में हिंदी के आलावा अनेकों क्षेत्रीय भाषा बोली जाती है, उनमें भोजपुरी, मैथली और मागधी ज्यदा पोपुलर है.…

‘यदि नीतीश अकेले लड़ते तो वे शायद मोदी पर शुरु से ही भारी पड़ जाते’

बिहार में चुनाव की घोषणा हो चुकी है. मैं आज इस स्थिति में नहीं हूं कि कोई भविष्यवाणी कर सकूं. आज यह नहीं बताया जा सकता कि कौन जीतेगा. यदि जातीय समीकरण प्रबल हो गए तो निश्चित ही नीतीश-लालू गठबंधन जीत जाएगा और यदि मोदी का जादू अब भी चल…

महाभारत का श्राप है इसलिए यादव कभी एक नहीं हो पायेंगे!

बीते कुछ दिनों में बिहार की राजनीति में जो भी हुआ उससे साफ़ पता चलता है कि यादव नेता कभी भी साथ नहीं रह सकते. जब भी कोई दो यादव एक साथ आने की कोशिश करते भी हैं तो कोई तीसरा उनके विपक्ष में खड़ा हो जाता है. बड़ी मुश्किल…

‘प्याज़ से बेखबर 56 इंच की सरकार 500 इंच की रजाई तानकर सो रही है’

प्याज़ और आलू दो ऐसी चीज़ें हैं, जिन्हें हम सब्जि़यों की सब्जियां कह सकते हैं और प्याज, जिसे कांदा भी कहते हैं, आजकल सब्जियों का राजा बन गया है. हर सब्जी में प्याज़ की उपस्थिति आजकल अनिवार्य-सी हो गई है. गरीब हो या अमीर, प्याज के बिना किसी की भी…

aamir-crying-mm

ये आमिर खान इतना रोता क्यों है?

‘सौ आंसू रोये दो अँखियाँ..’ टीवी या रेडियो पर इस गाने को आजकल आप खूब सुन रहे होंगे. आनेवाली फ़िल्म ‘कट्टी-बट्टी’ के इस दिलकश गाने को लिखा है कुमार ने और म्यूजिक देने के साथ ही गाया है शंकर महादेवन ने.. खैर, अब सीधे आता हूँ आज के टॉपिक पर..सवाल…

modi in ara rally

मोदीजी के नाम एक ‘बिहारी’ का खुला ख़त

आदरणीय मोदीजी, नमस्ते.. कल आप बिहार आये, हमारे राज्य को विशेष पैकेज दिया, हमें बहुत ख़ुशी है. इसके लिए आपका धन्यवाद.. मोदीजी..मैं एक बिहारी हूँ और कल मैं आरा के उस मैदान में मौजूद नही था, जहाँ आपने इस स्पेशल पैकेज का ऐलान किया. और मुझे लगता है कि कल…

आइये, ‘आजादी’ मनाएं..

‘क्या सोचा था..सरदार खुश होगा?’ ‘..शाबाशी देगा?’ यहाँ तक आने के लिए आप सबका शुक्रिया. पोस्ट पर क्लिक करते समय आपने क्या सोचा ये मुझे नहीं पता.. लेकिन मैं आज आपको पुरानी बोरिंग देशभक्ति की बातें नहीं सुनाऊंगा. आपको पता है..देश में इतनी गरीबी है..करप्शन है..बेरोजगारी है..ये कैसी आजादी मिली…

modi nitish

बिहार में लीडरशिप क्राइसिस और उसमे युवाओं की भूमिका

बिहार अभी पोलिटिकल लीडरशिप क्राइसिस के दौर से गुजर रहा है जबकि हम बहुत सारे क्षेत्रों में अव्वल हैं. हम देश में नं.1 बन सकते हैं. जब मैं इसके बारे में सोचता हूँ तो पता चलता है कि बहुत ज्यादा मुश्किल नहीं है ये क्यूंकि हमारे पास देश का बेहतरीन…