Input your search keywords and press Enter.

बिहार पुलिस में महिलाओं की और भी बढ़ेगी संख्या : मुख्यमंत्री

फाईल फोटो

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार शुक्रवार को बीएमपी-5 के मिथिलेश स्टेडिय में बिहार स्वाभिमान पुलिस बटालियन के पहले स्थापना दिवस समारोह में पहुंचे. जहां उन्होंने कहा कि पुलिस में महिलाओं की संख्या आनेवाले दिनों में और भी बढ़ेगी.


Widget not in any sidebars

सीएम ने सन 2006 को याद करते हुए बताया कि उस वक़्त पुलिस में महिलाओं की संख्या दो प्रतिशत से भी कम थी. आज उनकी संख्या 15 प्रतिशत से ज्यादा है. साथ ही उन्होंने उम्मीद जताई कि महिलाओं को जितना आरक्षण दिया गया है उतनी संख्या में अगले पांच वर्षों में महिलाएं पुलिस में होंगी.

Loading...

मुख्यमंत्री ने यह भी बताया कि बिहार में अनुसूचित जनजाति की महिलाओं की पुलिस बटालियन भी है. ऐसा करने वाला बिहार देश का पहला राज्य है. देशभर में कहीं भी ऐसी बटालियन नहीं है. बिहार में एसटी महिला बटालियन में 675 पद थे, लेकिन 222 ही चयनित हो पाई हैं. इसकी एक वजह है कि बिहार में अनुसूचित जनजाति की संख्या कम है. मुख्यमंत्री ने उम्मीद जताई कि आनेवाले एक-दो साल में सारे पद भर जाएंगे.

इस मौके पर मुख्यमंत्री ने बिहार स्वाभिमान पुलिस बटालियन के प्रतीक चिन्ह का अनावरण किया और एक सस्मारिका का विमोचन भी किया. साथ ही पूर्व के वर्षों में राष्ट्रपति पुलिस वीरता पदक और सराहनीय सेवा पदक से सम्मानित पुलिस अफसरों और जवानों को पुरस्कृत किया.

यह भी पढ़ें:
स्वार्थ और बेमेल से बना है महागठबंधन : राणा रंधीर सिंह

राजद ने जदयू और भाजपा दोनो में की सेंधमारी, दो नेता आये राजद के साथ

रघुवंश प्रसाद सिंह ने कहा महागठबंधन का चुनावी मिशन एजेंडा तय, अगली सरकार बनेगी महागठबंधन की

Widget not in any sidebars

Leave a Reply

Your email address will not be published.