Input your search keywords and press Enter.

सुशांत सिंह राजपूत की मौत को लेकर बड़ा खुलासा, इनकी मौत के बाद सुशांत ने यह कहा था

सुशांत सिंह राजपूत की करीबी दोस्त का सिम्ता पारीक ने बताया कि सुशांत की पूर्व मैनेजर दिशा की मृत्यु के बाद सुशांत काफी परेशान रहने लगे थे। उन्होंने अपनी बहन मीतू से कहा था कि ‘वे लोग’ उसे नहीं छोड़ेंगे। ‘वे लोग’ से उनका क्या आशय था यह मैं नहीं जानती। सुशांत की पूर्व मैनेजर दिशा की मृत्यु 14वीं मंजिल से गिरने से हुई थी।

एक चैनल के साथ बातचीत के दौरान स्मिता ने कहा, ‘सुशांत बिल्कुल भी डिप्रेस नहीं थे। मैंने उनके साथ करीब एक साल तक म्यूजिकल या कविताओं को लेकर होने वाली बैठकों को लेकर 10 से 12 घंटे एकसाथ बिताए हैं। हम एक दूसरे के घर पर मिलते थे। उनके बारे में बाइपोलर की बात भी कही गई। वह सरासर गलत है। मेरे बिजनेस पार्टनर बाइपोलर से पीडि़त रहे हैं। मैं उन दिक्कतों से वाकिफ हूं। मैं सुशांत के परिवार में प्रियंका सिद्धार्थ और हाल में मीतू से परिचित हुई। रिया ने सुशांत का घर आठ जून की सुबह छोड़ा था। मुझे बताया गया कि वह दो बड़े बैग में अपना सामान भरकर ले गई। वह उसके साथ ब्रेकअप कर चुकी थी। ड्राइवर से रिया को उसके घर छोड़ने को कहा गया। उसी शाम मीतू दीदी आई। उनका आना पहले से तय था। उनके आने से पहले रिया घर छोड़ गई थी। उस समय सुशांत नार्मल थे। वह टेबिल टेनिस खेल रहे थे, ध्यान लगा रहे थे।’

आगे उन्‍होंने बताया, ‘अगले दिन नौ जून को दिशा सालियन की मौत से सुशांत बहुत अपसेट हो गए थे। वह मीतू दी से लगातार कहने लगे थे, अब वह लोग मुझे नहीं छोड़ेंगे। मेरे पीछे पड़ जाएंगे। मुझे नहीं पता, वह कौन थे। सुशांत ने 11 जून को अपने जीजा को फोन किया और कहा कि मुझे बहुत डर लग रहा है। क्या आप मुझे यहां से ले जाएंगे। वे उन्हें चंडीगढ़ ले जाने वाले थे। उससे पहले पिछले साल नवंबर में मीतू खुद गाड़ी चलाकर उन्हें चंडीगढ़ ले गई थीं। तब वह फिल्म इंडस्ट्री छोड़ना चाहते थे। वह काफी घुटन महसूस कर रहे थे। उन्होंने कहा कि वह चंडीगढ़ आकर खेती करना चाहते हैं।’