Input your search keywords and press Enter.

डायनामाइट ब्लास्ट में 8 मजदूरों की मौत, पूरे इलाके की घेराबंदी की गई

कर्नाटक के शिवमोगा में गुरुवार रात 10.20 बजे डायनामाइट ब्लास्ट हुआ, जिसमें 8 मजदूरों की मौत हो गई। मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा ने उच्चस्तरीय जांच के आदेश दिए हैं। शुक्रवार सुबह पुलिस और अधिकारियों की टीम घटनास्थल हुनासोडू गांव पहुंची। पूरे इलाके को सील कर दिया गया है। पुलिस के मुताबिक, पत्थरों को तोड़ने के लिए विस्फोटक (जिलेटिन की छड़ें) ले जाया जा रहा था, तभी शिवमोगा के अब्बलगेरे गांव के पास ब्लास्ट हो गया।

आपको बता दें कि धमाका इतना तेज था कि शिवमोगा के नजदीकी जिले चिकमंगलूर तक इसकी आवाज सुनाई दी और आसपास के इलाकों में भूकंप जैसे झटके महसूस किए गए। कुछ लोगों का दावा है कि एक के बाद एक 50 डायनामाइट ब्लास्ट हुए। धमाके की वजह से आसपास के घरों के शीशे टूट गए। लोगों को लगा कि भूकंप आया, इसलिए लोग घबराहट में घरों से बाहर आ गए।

विस्फोटक की गंध भी 8-10 किमी तक महसूस की गई। शिवमोगा कर्नाटक के मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा का गृह जिला है। शिवमोगा ग्रामीण के विधायक अशोक नाइक ने बताया कि हर जगह धुआं ही धुआं था। कुछ भी दिखाई नहीं दे रहा था। शिवमोगा के डिप्टी कमिश्नर केबी शिवकुमार ने बताया कि पूरे इलाके की घेराबंदी कर दी गई है। उन्होंने घटनास्थल पर और विस्फोटक पड़ा होने की आशंका जताई है।