Input your search keywords and press Enter.

Breaking News: केंद्र ने दी कर्ज़दारों को बड़ी राहत, 2 करोड़ तक के लोन पर नही लगेगा चक्रवृद्धि ब्याज

कोरोना संक्रमण के चलते अपनी आमदनी का जरिया खो चुके कर्जदारों को सरकार ने बड़ी राहत दी है । सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में हलफनामा दाखिल कर कहा है कि वह दो करोड़ तक के कर्ज धारकों से लोन पर चक्रवृद्धि ब्याज नहीं लेगा । सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में हलफनामा देकर कहा है कि 6 महीने के इस लोन मोराटोरियम में MSME से लकर पर्सनल लोन तक शामिल हैं.अब ऐसे लोन पर चक्रवृद्धि ब्याज नहीं लिया जाएगा।

केंद्र ने कहा है कि कोरोना वायरस महामारी को देखते हुए ब्याज की छूट का भार सरकार उठाएगी. सरकार ने कहा है कि उपयुक्त अनुदान के लिए संसद से इजाजत ली जाएगी. सुप्रीम कोर्ट में पहले सरकार ने कहा था कि वो ब्याज पर ब्याज को माफ नहीं कर सकते, क्योंकि इससे बैंकों की हालत पर असर पड़ेगा. सुप्रीम कोर्ट ने तब कर्जदारों की सहायता के लिए पूर्व CAG राजीव महर्षि की अध्यक्षता में एक पैनल का गठन किया था.

इस पैनल ने जो सुझाव दिए केंद्र ने उसे मानते हुए अपना पुराना रुख बदल दिया और अब चक्रवृ्द्धि ब्याज नहीं लेने का फैसला किया है. सुप्रीम कोर्ट में इस मामले पर अगली सुनवाई 5 अक्टूबर को होगी. 6 महीने के मोराटोरियम की ये सुविधा सिर्फ उन्हीं कर्जदारों को मिलेगी, जिन पर 2 करोड़ तक के लोन हैं, इससे ज्यादा लोन वाले इस स्कीम से बाहर रहेंगे.