Input your search keywords and press Enter.

कांग्रेस के अंदर का आक्रोश पैदा कर रहा है नेताओं के बीच विरोधाभास

कांग्रेस के गुट के अंदर काफी विरोध बढ़ता जा रहा है। यह आक्रोश पार्टी के अंदर विद्रोह जैसे हालात पैदा कर रहा है। पार्टी सूत्रों ने कहा कि एक दिन पहले राज्यसभा सांसदों की सोनिया गांधी के साथ बैठक में हुई बातों के बाद कई वरिष्ठ नेता युवा ब्रिगेड की आड़ में चले जा रहे अंदरूनी सियासी दांव को पंक्चर करने के लिए अब खुलकर सामने आने से भी परहेज नहीं करेंगे। लेकिन सोनिया गांधी की सेहत को ध्यान में रखते हुए इन नेताओं ने अभी स्थिति को संभालने की कोशिश की।

युवा नेतृत्व के नाम पर राहुल गांधी की टीम पुराने नेताओं से अलग होने की कई कोशिशें कर रही है। ‌ इस पर टिप्पणी करते हुए कांग्रेस के एक वरिष्ठ नेता ने कहा, ‘राजीव सातव और केसी वेणुगोपाल जैसे चेहरों के सहारे कांग्रेस को बदलने की बात आम के पेड़ पर तरबूज उगाने जैसी है। राहुल आम के पेड़ पर बेमौसमी आम उगाने का प्रयास करें तो शायद हम यह स्वीकार कर लें लेकिन आम के पेड़ पर वे तरबूज उगाने की कोशिश करेंगे तो यह नहीं चलेगा।’ वहीं दूसरी तरफ वरिष्ठ नेताओं का रुख साफ है कि पुरानी पीढ़ी के नेताओं को अलग करने की कोशिशों को नाकाम करने के लिए बुजुर्ग पीढ़ी तैयार हैं।