Input your search keywords and press Enter.

दिल्ली हिंसा पर अमित शाह की हाई लेवल मीटिंग, अफवाह फैलाने वाले लोगो और सोशल साइट पर गृह मंत्रालय की कड़ी नज़र

नागरिकता संशोधन कानून के विरोध के बीच दिल्ली में बढ़ी हिंसा को लेकर गृह मंत्री अमित शाह ने गृह मंत्रालय में सुरक्षा को लेकर एक उच्च स्तरीय बैठक बुलाई. इस बैठक में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल समेत लेफ्टिनेंट गवर्नर अनिल बैजल, आईबी चीफ अरविंद कुमार, होम सेक्रेटरी अजय कुमार भल्ला, दिल्ली पुलिस कमिश्नर अमूल्य पटनायक समेत भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष मनोज तिवारी, कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष सुभाष चोपड़ा व अन्य मौजूद रहे.

बैठक में सामूहिक रूप से इस बात पर सहमति तैयार हुई की राजनीति से ऊपर उठकर सभी दल दिल्ली में शांति बहाली के लिए प्रयास करें. दिल्ली पुलिस को भी हिंसा की रोकथाम के लिए विशेष एहतियात बरतने को कहा गया है.

उस बैठक में गृहसचिव एके भल्ला, आईबी चीफ, दिल्ली पुलिस कमिश्नर व अन्य मौजूद थे. दिल्ली हिंसा की वजह से ही गृहमंत्री शाह मंगलवार सुबह ट्रंप के सेरेमोनियल में भी नहीं जा सके. वो सुबह से ही लगातार दिल्ली पुलिस के साथ समन्वय बैठाकर हिंसा को रोकने के प्रयास में जुटे रहे. दोपहर 12 बजे गृहमंत्री शाह में दिल्ली के सभी दलों के साथ एक अहम बैठक की.

गृह मंत्रालय के सूत्रों ने बताया कि मीटिंग में कई अहम फैसले लिए गए

-इसके तहत पुलिस हिंसा फैलाने वाले लोगों पर रखे कड़ी नजर रखेगी.

-अफवाह फैलाने वाले लोगो और सोशल साइट पर गृह मंत्रालय की कड़ी नज़र.

-पुलिस और स्थानीय विधायक के बीच हो बेहतर कोऑर्डिनेशन बनेगा.

-हिंसा प्रभावित क्षेत्रों में इलेक्ट्रॉनिक सर्विलांस और ड्रोन के जरिए कड़ी निगरानी के निर्देश.

-पुलिस बल के सहयोग के लिए और अर्धसैनिक बल बढ़ाए जाएंगे.

-अफवाह फैलाने वाले की धरपकड़ करने के आदेश.

बहरहाल, मीटिंग के बाद दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा की हिंसा बढ़ेगी तो उसका किसी को फायदा नहीं होगा. गृहमंत्री ने बैठक बुलाई थी. मीटिंग सकारात्मक रही. राजनीति से ऊपर उठकर सब ने तय किया कि यह दिल्ली का मामला है, और सभी राजनीतिक दल मिलकर शांति बहाल करने के लिए प्रयास करेंगे. गृहमंत्री ने आश्वासन दिया है कि पुलिस की कोई कमी नहीं होने देंगे.

गौरतलब है कि नागरिकता कानून को लेकर पिछले ढाई महीने से दिल्ली में अलग-अलग इलाकों में प्रदर्शन चल रहे हैं, लेकिन पिछले दो दिनों से पूर्वी दिल्ली के भजनपुरा, मौजपुर, सीलमपुर में हिंसा बढ़ गई. खबर लिखे जाने तक दिल्ली पुलिस के जवान समेत 5 लोगों की मौत हो गई. घटना बढ़ने की वजह से सोमवार देर रात गृहमंत्री अमित शाह ने अपने आवास पर अधिकारियों के साथ बैठक की.