Input your search keywords and press Enter.

अविश्वास प्रस्ताव पर मोदी का भाषण शुरू, राहुल के गले लगने पर भी दिया जवाब

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लोकसभा में अविश्वास प्रस्ताव पर बहस का जवाब दे रहे हैं. उन्‍होंने जवाब शायरी के साथ शुरू किया. उन्‍होंने कहा, ‘न मांझी न रहबर न हक में हवाएं हैं, किश्ती भी जर्जर, ये कैसा सफर है.’ गले लगाने को लेकर प्रधानमंत्री ने राहुल गांधी पर मारा तंज. कहा यहां न कोई उठा सकता है न कोई बैठा सकता है. आँख मारने पर मोदी का राहुल पर तंज, ये आँखों कखेल देख रहा है.

Loading...
  1. इशारों में कहा, अगर 2019 में कांग्रेस सबसे बड़ा दल बनती है तो मैं बनूंगा प्रधानमंत्री, लेकिन दूसरों की ढेर सारी ख्वाहिश है, उनका क्या होगा उस बारे में कन्फ्यूजन है.
  2. विपक्षी दलों पर निशाना साधते हुए कहा कि जितना अविश्वास सरकार पर है उतना अविश्वास अपने संभावित साथियों पर तो कीजिए.
  3. हम यहां इसलिए हैं क्योंकि सवा सौ करोड़ देशवासियों का विश्वास हमारे साथ है.
  4. यह काम करने वाली सरकार है. सरकार ने 18 हजार गांवों में बिजली पहुंचाई. पहले भी सरकार यह काम कर सकती थी.
  5. बैंकों का राष्ट्रीयकरण हुआ लेकिन गरीबों के लिए बैंक के दरवाजे नहीं खोले गए. हमारी सरकार ने लगभग 25 करोड़ अकाउंट खुलवाए
  6. प्रधानमंत्री ने कहा,” सरकार ने आने वाले दिनों में बीमारी के इलाज के लिए 5 लाख रुपये देने का लक्ष्य रखा है, 2022 तक किसानों की आमदनी दोगुनी करने का लक्ष्य रखा है जिसपर विपक्ष का विश्वास नहीं है.”
  7. पीएम मोदी ने कहा कि कांग्रेस के वक्त में मोबाइल बनाने वाली दो कंपनियां थी आज 120 कंपनियां देश में मोबाइल बना रही हैं.
  8. पीएम मोदी ने कहा कि क्या कारण था कि कांग्रेस के वक्त में एलईडी बल्ब साढे चार सौ पांच सौ का बिकता था और अब चालीस-पचास रुपये में बिकता है?
  9. जब हम डिजिटल लेनदेन की बात करने लगे तो सदन में लोग कहने लगे कि हमारा देश अनपढ़ है, डिजिटल लेनदेने कैसे करेगा, लेकिन देशवासियों ने इन्हें जवाब दिया- प्रधानमंत्री मोदी
  10. कांग्रेस को खुद पर अविश्वास है. उनको स्वच्छ भारत, अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस, देश के मुख्य न्यायधीश, आंकड़े देने वाली संस्थाएं, देश के बाहर पासपोर्ट की ताकत कैसे बढ़ रही है, चुनाव आयोग, ईवीएम किसी पर विश्वास नहीं है क्योंकि उनको खुद पर विश्वास नहीं है.

Widget not in any sidebars

Leave a Reply

Your email address will not be published.