Input your search keywords and press Enter.

कश्मीर में महबूबा के साथ सरकार बनाई तो ओवैसी के साथ भाजपा को क्या परेशानी?- कांग्रेस

हैदराबाद नगर निगम चुनाव में भी कांग्रेस की करारी हार हुई है। यहां कांग्रेस को सिर्फ दो सीटों पर जीत नसीब हुई। वहीं बीजेपी के अच्छे प्रदर्शन के चलते निगम चुनाव के त्रिशंकु नतीजे आए है। इस पर कांग्रेस नेता तारिक अनवर ने ट्वीट करके कहा है कि हैदराबाद नगर निगम के परिणाम त्रिशंकु आए हैं।

गौरतलब है कि अकेले निगम बनाने में कोई सक्षम नहीं है। बेहतर तो यही होगा ओवैसी की एमआईएमआईएम और बीजेपी मिल कर निगम बनाए क्योंकि दोनों वैचारिक रूप से एक ही हैं। जब कश्मीर में महबूबा मुफ़्ती के साथ बीजेपी सरकार बना सकती है तो एमआईएम से साथ क्या परेशानी ? हैदराबाद कांग्रेस के लिए निराशाजनक रहे चुनाव परिणामों पर प्रदेश कांग्रेस प्रमुख एवं सांसद एन उत्तम कुमार रेड्डी ने यह घोषणा की कि उन्होंने प्रदेश कांग्रेस समिति प्रमुख पद से अपना इस्तीफा सौंप दिया है।

रेड्डी ने कहा कि उन्होंने अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी से नया प्रदेश अध्यक्ष को चुनने की प्रक्रिया शुरू करने को कहा था। आपको बता दें कि ग्रेटर हैदराबाद निगम चुनाव (जीएचएमसी) में बीजेपी ने 12 गुना लंबी छलांग लगाते हुए 48 सीट पर कब्जा कर लिया जिससे त्रिशंकु की स्थित बन गई है। सत्ताधारी टीआरएस पार्टी 99 से लुढ़क कर 55 सीट पर सिमट गई, जबकि असदुद्दीन ओवैसी की एआईएमआईएम 44 सीट जीतकर तीसरे स्थान पर रही। कांग्रेस को महज दो सीट से संतोष करना पड़ा।