Input your search keywords and press Enter.

अनिश्चितकाल तक नहीं चला तोगड़िया का उपवास, ये था कारण

न्यूज़ डेस्क: विश्व हिंदू परिषद (वीएचपी) के पूर्व अध्यक्ष डॉक्टर प्रवीण तोगड़िया राम मंदिर को लेकर अनिश्चितकाल तक का अनशन रखा था लेकिन उपवास के दो दिन बाद ही तोगड़िया ने अपना उपवास ख़तम कर दिया. इस मौक पर शिवसेना, विहिप और बजरंगदल के कार्यकर्ता मौजूद थे. बता दें, वीएचपी के अध्यक्ष पद से हटने के बाद प्रवीण तोगड़िया राममंदिर निर्माण को लेकर माहौल बनाने की कोशिश में लगे थे.

अनशन के दौरान भी तोगड़िया ने जमकर मोदी के खिलाफ बोला है. तोगड़िया ने प्रधामंत्री पर निशाना साधते हुए बोला कि क्या आप भुल गए पुलिस की गोली से 300 हिन्दुओं को मरवाया था. आपके (नरेंद्र मोदी) पास जो सत्ता है वो हिन्दुओं की लाशों से मिली है.

Loading...

तोगड़िया ने कहा कि आज भी गुजरात के 1200 से ज्यादा हिंदू आजीवन कारावास भुगत रहे हैं. सैकड़ों हिंदुओं की लाश और हजारों हिंदुओं का कारावास क्या आपको सत्ता में भेजने के लिए थी?तोगड़िया ने कहा कि आज उनकी पत्नियां रो रही हैं. राम मंदिर बनाने के लिए लोगों ने अपनी जान दी और जेल गए हैं.

आपको बता दे की तोगड़िया कुछ समय से नाराज़ चल रहे है. 2017 में अध्यक्ष पद का कार्यकाल समाप्त होने के बाद से ही प्रवीण तोगड़िया नाराज चल रहे हैं. इसी साल जनवरी में वो अहमदाबाद में बेहोशी की हालत में मिले थे, जिसके बाद उन्होंने मीडिया के सामने रोते हुए खुद की जान को खतरा होने का आरोप लगाया था.


Widget not in any sidebars

Leave a Reply

Your email address will not be published.