Input your search keywords and press Enter.

दलित अत्याचार के खिलाफ राहुल गांधी का आगाज, राजघाट पर कांग्रेस का अनशन शुरू

file pic

न्यूज़ डेस्क: दलितों के मुद्दे पर राजनीतिक दल मुखर हो उठे हैं. कांग्रेस ने देश भर में दलितों का उत्पीड़न बढ़ने की बात कहते हुए आंदोलन शुरू करने की तैयारी की है. पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी सोमवार (नौ अप्रैल) को राजघाट पर उपवास कर इसकी शुरुआत कर चुके है. माना जा रहा है कि नजदीक आए कर्नाटक चुनाव और आगामी लोकसभा चुनाव के मद्देजनर कांग्रेस दलितों से जुड़े मुद्दे उठाकर उनके दिल में पैठ बनाने की कोशिश कर रही है

राहुल गांधी के राजघाट पहुंचने से पहले ही कांग्रेस नेता जगदीश टाइटलर और सज्जन कुमार को वहां से वापस भेज दिया गया है. इसको लेकर काफी विवाद हो रहा है. बता दें कि जगदीश टाइटलर और सज्जन कुमार 1984 में हुए सिख दंगों के आरोपी हैं. हालांकि, जगदीश टाइटलर ने कहा है कि वह कहीं नहीं जा रहे हैं, बल्कि जनता के बीच में जाकर बैठेंगे.

Loading...

बता दें कि उपवास शुरू हो गया है. दिल्ली प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष अजय माकन समेत कई नेता वहां पर मौजूद हैं. कुछ ही देर में राहुल गांधी भी वहां पर पहुंच सकते हैं. कांग्रेस कार्यकर्ता बीजेपी सरकार के खिलाफ और देश में सांप्रदायिक सौहार्द तथा शांति को बढ़ावा देने के लिए सभी राज्य और जिला मुख्यालयों में एकदिवसीय अनशन कर रहे हैं.

बताया जा रहा है कि कांग्रेस इस मुद्दे को पूरी तरह से भुनाने की कोशिश में है. ताकि चुनावों में दलित वोटों की फसल काटी जा सके. कांग्रेस का आरोप है कि केंद्र सरकार संसद नहीं चलने दे रही, जिससे बैंक घोटाले, दलित उत्पीड़न आदि घटनाओं पर बहस नहीं हो पा रही. उधर बीजेपी का आरोप है कि कांग्रेस सहित समूचा विपक्ष संसद नहीं चलने दे रहा. बीजेपी ने भी 12 अप्रैल को पार्टी सांसदों को संसद न चलने के विरोध में उपवास करने को कहा है. माना जा रहा है कि बीजेपी की इस घोषणा का जवाब देने के लिए राहुल गांधी ने पहले ही राजघाट पर दलित उत्पीड़न के मुद्दे पर उपवास रखने का फैसला किया.

One Comment

  • Drpcsingla says:

    All politicians are basically good actors, their sole motto is chair only chair,they are not the well-wishers of public they devide the people in fractions to rule.
    Their soul has been killed by their overambitiousness.
    I salute them for their dare that they are interfering and challenging the decision and judgement of God on behalf of karam.

Leave a Reply

Your email address will not be published.