Input your search keywords and press Enter.

राजस्थान के राज्यपाल कलराज ने 14 अगस्त को विधानसभा सत्र बुलाने का प्रस्ताव जारी किया


राजस्थान का सियासी दल अभी भी गरमाया हुआ है। ‌ इसी बीच बुधवार देर रात को राज्यपाल कलराज मिश्र ने विधानसभा सत्र बुलाने का आदेश जारी कर दिया। कलराज ने गहलोत सरकार से कहा कि वह 14 अगस्त को विधानसभा सत्र बुलाए। कल शाम को विधानसभा स्पीकर सीपी जोशी राज्यपाल से मुलाकात की थी।

माना जा रहा है कि राज्यपाल के विधानसभा सत्र बुलाने के निर्णय से पहले विधानसभा के स्पीकर सीपी जोशी ने सुप्रीम कोर्ट का रुख किया। वही स्पीकर जोशी ने राजस्थान हाईकोर्ट के पायलट खेमे की अर्जी पर फैसले के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में एक नई याचिका दायर कर दी है।

24 जुलाई को राजस्थान हाईकोर्ट ने विधानसभा स्पीकर के नोटिस पर स्टैम्प लगा दिया था। जिसका अर्थ यह है कि अगले आदेश तक सचिन पायलट और उनके बागी विधायकों की सदस्यता को कोई खतरा नहीं है। इस फैसले के बाद विधानसभा के स्पीकर जोशी ने हाईकोर्ट के फैसले को चुनौती देते हुए सुप्रीम कोर्ट की ओर अपना रुख बना लिया। लेकिन उन्होंने अपनी अर्जी बाद में वापस ले ली थी। जोशी ने यह शिकायत दायर की थी कि हाईकोर्ट का आदेश उसके अधिकार क्षेत्र में नहीं आता है।

वहीं दूसरी तरफ अशोक गहलोत कैबिनेट ने विधानसभा सत्र बुलाने के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है। इस प्रस्ताव में 14 अगस्त को विधानसभा सत्र बुलाने के लिए कहा गया था।