Breaking News
May 20, 2019 - नीरज कुमार ने तेजस्वी पर दागे सवाल, क्या आप नही चाहते कि लालूजी जेल से निकले ?
May 20, 2019 - एग्जिट पोल देख फूले नहीं समा रहे गिरिराज सिंह, शुरू किया विपक्ष पे हमलों का सिलसिला
May 20, 2019 - एग्जिट पोल पे मायावती और अखिलेश ने साधी चुप्पी, घंटे भर हुई मायावती के घर पे बैठक
May 20, 2019 - तेजस्वी ने एग्जिट पोल को लेके कही ये बड़ी बात
May 20, 2019 - एग्जिट पोल देख तेजस्वी पर गुस्से में पप्पू यादव
May 20, 2019 - एग्जिट पोल ने लालू परिवार को कर दिया खामोश
May 19, 2019 - नाराज मत होइए, बाकी चैनलों का भी बिहार का एग्जिट पोल देख लीजिये
May 19, 2019 - DBN Exit Poll रिजल्ट बिहार: एनडीए को बड़ी बढ़त
May 19, 2019 - सभी राज्यों का देखिये Exit Poll
May 19, 2019 - मनेर में रामकृपाल समर्थक मीसा पर भारी

कांग्रेस के बड़े नेता और प्रवक्ता हुए बीजेपी में सामिल

शेयर कर और लोगों तक पहुंचाए

इस बार के लोकसभा चुनाव में तो जैसे दल बदलने का सिलसिला सा बन गया है. जैसे जैसे चुनाव करीब आ रहा है वैसे वैसे नेताओं का दल बदलना भी सुरु हो गया है. ज्यादातर नेता बीजेपी में घुसने की कोशिश में लगे है. इससे सबसे ज्यादा कांग्रेस और टीएमसी के नेता जुरे है.

गुरुवार को ही कांग्रेस के सीनियर लीडर और प्रवक्ता टॉम वडक्कन ने कांग्रेस को छोड़ बीजेपी में शामिल होने का फैसला ले लिया. टॉम ने ये फैसला कांग्रेस से दुखी होकर लिया है. टॉम का कहना है कि सर्जिकल स्ट्राइक का सबूत मांग कर कांग्रेस ने बेहद गलत काम किया है और इसके लिए वो भी कांग्रेस के साथ नहीं है. उन्होंने आगे ये भी कहा कि कांग्रेस में सिर्फ और सिर्फ यूज ऐंड थ्रो की नीति चलती है. टॉम ने आगे बताया कि ये फैसला उन्हें लेना परा क्यूंकि उनके पास कोई और विकल्प नहीं था उनके कांग्रेस को 20 साल सेवा करने के बाद भी उन्हें कांग्रेस में यूज ऐंड थ्रो की नीति ही दिखी. उन्होंने आगे ये भी कहा कि देश से बढ़कर उनके लिए पार्टी नहीं है.

इससे अलावा गुरुवार को तृणमूल कांग्रेस के विधायक भी बीजेपी में शामिल हो गए. राधाकृष्ण जोकि कांग्रेस के वरिष्ठ नेता है उनके बेटे सुजॉय ने भी बीजेपी में समिल होकर कांग्रेस को झटका दिया. वहीं गुजरात की बात करें तो वहां भी कांग्रेस के तीन नेताओं ने इस्तीफा दे दिया. ना जाने और कितना दल बदलेगा आने वाले चुनाव तक, ये तो आने वाला वक्त ही बताएगा.

शेयर कर और लोगों तक पहुंचाए

About author

Leave a reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *