Input your search keywords and press Enter.

पानी हटने के बाद पहुंचे सासंद को देख भड़के बाढ़ पीड़ित, फिर जो हुआ पढ़िए…

WhatsApp Image 2017-08-24 at 9.32.23 AM (1)

WhatsApp Image 2017-08-24 at 9.32.23 AM (1)

महेंद्र प्रसाद, सहरसा: दो दिवसीय दौरे पर कोसी क्षेत्र में बाढ़ पीड़ितों का हालचाल लेने पहुचे खगरिया सासंद चोधरी महबूब अली केसर को बाढ़ का पानी उतरने के बाद क्षेत्र आने पर बाढ़ पीड़ित भड़क गए. बाढ़ पीड़ितों का आक्रोश का सामना करना पड़ा. आक्रोशित बाढ़ पीड़ितों ने सासंद के समक्ष जमकर खरी खोटी सुनाया. कोशी बाँध के बगेवा गांव के समीप सांसद चौधरी मेहबुब अली कैसर का काफिला रोक कर बाढ़ राहत से प्रभावित बाढ़ पिड़ितो ने खगड़िया सांसद पर आक्रोश जताने लगे.

वहीं बाढ़ पिड़ितो का कहना था कि बाढ़ की चपेट में आने से सबसे ज्यादा परेशान पीने के लिए पानी की हो रही है प्रसाशन की तरफ पेयजल की व्यवस्था नहीं होने से हम सभी लोग बाढ़ की पानी पी कर गुजारा करना पड़ता हैं. हालांकि सासंद ने आक्रोशित बाढ़ पीड़ित को शांत करते हुए उनकी परेशानी सुना. सरकार की इंतजाम से संतुष्ट दिखे सासंद केसर ने कहा कि राज्य सरकार खुद पीड़ितों की दुख दूर करने में लगा हैं.

Loading...

बाढ़ पीड़ितों को सरकार के द्वारा सारी सुबिधा दिया जा रहा है. सांसद श्री कैसर ने सलखुआ प्रखंड स के मध्य विद्यालय बहुअरवा में चल रहे बाढ़ राहत शिविर का जायजा लिया. वहीं शिविर में मौजूद बाढ़ पिड़ितो से मुलाकात भी किया साथ ही बाढ़ पिड़ितो के समस्या से अवगत भी हुए. वहीं मध्य विद्यालय बहुरवा के बाढ़ राहत शिविर से कई प्रभावित गांवो का दौरा किया. मध्य विद्यालय बहुरवा में बेहतर तरीके से बाढ़ राहत शिविर संचालित करने में प्रसाशन को धन्यवाद दिया.

चापाकल वितरण में धांधली का लगाया आरोप बाढ़ पीड़ितों ने सासंद मद से बांध पर लगवाया गया चापाकल वितरण में धांधली का आरोप लगाया. बाढ़ पीड़ितों का कहना था कि तटबन्ध पर कई बाढ़ पीड़ित शरण लिये है. उस जगह चापाकल नही देकर वैसी जगह एवं निजी लोगो को दिया गया. सासंद के चापाकल से बाढ़ पीड़ितों को कोई लाभ नही मिला है.

इस न्यूज़ को शेयर करे और कमेंट कर अपनी राय दे.

[shareaholic app=”share_buttons” id=”18820564″]

Leave a Reply

Your email address will not be published.