Input your search keywords and press Enter.

कॉलेजों में लटके रहे ताले, सभी काम-काज रहा ठप…

WhatsApp Image 2017-07-26 at 12.25.51 PM

WhatsApp Image 2017-07-26 at 12.25.51 PM

अभिषेक कुमार,अरवल: बिहार राज्य विश्वविद्यालय एवं महाविद्यालय कर्मचारी महासंघ के आव्हान पर बिहार के सभी 250 अंगीभूत महाविद्यालयों के 33 हजार कर्मचारी अपने छः दिनों की अनिश्चितकलिन हड़ताल के दूसरे दिन भी कॉलेजों के मुख्यद्वार पर जमे रहे और महाविद्यालय का ताला नहीं खुलने दिया.

परिणाम स्वरूप, महाविद्यालय में शैक्षिक एवं प्रशासनिक कार्यों सहित सभी काम पूर्णतः ठप रहे. एस. एन. सिन्हा कॉलेज में मुख्यद्वार पर मौजूद कर्मचारी संघ के अध्यक्ष डॉ. अवधेश कुमार सिंह ने कहा की एक जनवरी 2016 से प्रभावी सातवां पुनरीक्षित वेतनमान राज्यकर्मियों की भांति विश्वविद्यालय एवं महाविद्यालयों के शिक्षकेत्तर कर्मचारियों के लिए लागू करने सहित नौ सूत्री मांगों को लेकर इस हड़ताल का आवाहन किया गया है. इसके तहत कर्मचारी 29 जुलाई तक हड़ताल पर रहेंगे.

Loading...

कर्मचारी नेता ब्रजेश कुमार ने इस स्थिति के लिए राज्य सरकार खासकर शिक्षा विभाग को जिम्मेदार ठहराते हुए कहा है कि इनका यही रवैया रहा तो अगस्त में शिक्षकेत्तर कर्मचारियों का अनिश्चितकालीन हड़ताल पर जाना तय है. शिक्षकेत्तर कर्मियों की मांगों में सर्वोच्च न्यायालय के न्यायदेशों को लागू करना तथा अनुकंपा पर नियुक्त कर्मियों की समस्याओं का निवारण करना प्रमुख है. मौके पर सचिव संजय कुमार, शिवजी राय, रासनारायन भगत, बबन सिंह, अनवर हुसैन, राजीव नयन, मिन्हाजुद्दीन अहमद, शशि भूषण कुमार, राजेन्द्र प्रसाद गुप्ता, राम विलास प्रसाद, गुप्तेश्वर सिंह, शिव शंकर सिंह, लालन कुमार सिंह, राजेन्द्र कुमार, कृष्णा प्रसाद, इतराज देवी, ललिता देवी उपस्थित रहे.

इस न्यूज़ को शेयर करे और कमेंट कर अपनी राय दे.

[shareaholic app=”share_buttons” id=”18820564″]

Leave a Reply

Your email address will not be published.