Input your search keywords and press Enter.

न्यूज़ देख एयरपोर्ट पर ही भड़क उठे अक्षय कुमार, जो कहा जान आपका भी खौल उठेगा खून!

akshay kumar

akshay kumar


न्यूज़ डेस्क: जहां एक और पूरे देश में नए साल में जश्न का माहौल चल रहा था, वहीं दूसरी ओर कुछ ऐसा हो रहा था की जिसे देखकर इंसान क्या जानवर भी शरमा जाए. बेंगलूरु में हुई नए साल में छेड़छाड़ की घटना ने पूरे देश को हिला दिया. पूरे देशवासियों ने एकजुट होकर इसका विरोध करना शुरू कर दिया पर कुछ विकृत मानसिकता के लोगों ने इस पर भी सवाल उठाया.

बॉलीवुड के कई दिग्गज कलाकार ने इस घटना पर दुख जताया है पर अक्षय कुमार ने सोशल मीडिया पर विडियो पोस्ट कर घटना के खिलाफ आवाज उठाया है. विडियो में अक्षय कुमार इंसान होने पर सवाल उठाते नज़र आ रहे है, वे बता रहें हैं कि मैं अपने पूरे परिवार के साथ केपटाउन से छुट्टी बिताकर कर लौता ही था की एअरपोर्ट से निकलते समय मुझे वो न्यूज़ दिखाई दी.

मैंने उसमे वहशियत का नाच देखा, खुलेआम सड़क पर जहां आम इंसान के साथ पुलिस भी थी. उसे देखकर मेरा खून खौल उठा. मेरी भी एक बेटी है और सबके घर में बेटी है, और मैं ये कहना चाहता हूँ जो लोग अपने समाज में महिलाओ को इज्जत नहीं करता उसे इंसानी समाज कहने का कोई हक नहीं है. अक्षय कुमार ने विडियो में छोटे सोच बाले लोगो पे भी निशाना साधा है जो लोग लडकियों के कपडे को घटना का जिम्मेवार मानते हैं. उन्होंने ये भी कहा की मुझे वैसे लोगो के सोच पर शर्म आती है जो लड़की ने छोटे- कपड़े पहने क्यों, लड़की घर से बाहर गई क्यों? जैसे बातो को घटना का जिम्मेबार मानती है.

Loading...

वे विडियो में यह भी कह रहें है की विकृत मानसिकता के लोग कही दुसरे ग्रह से नहीं आए है वे हम लोग के बीच के ही हैं. पर जिस दिन हमारे देश की लडकियों ने जवाब देना शुरू कर दिया उस दिन सब ऊपर चले जाओगे. उन्होंने लडकियों को भी ऐसे लोगो से डटकर मुकाबला करने की सलाह दी है, अपने आप को किसी से कम नही समझने की सलाह दी है.वे बोले की लड़कि यदि मार्शल आर्ट सीख ले तो लडको पे भारी पड़ जाएंगी, उसके बाद किसी के बाप में दम नहीं कि आपकी मर्जी के बिना आपको हाथ भी लगा सके.

इसके बाद अक्षय ने उन लोगों पर भी निशाना साधा जिन्होंने लड़कियों के कपड़े और रात में बाहर निकलने को इस घटना का जिम्मेदार बताया है. अक्षय ने इस पर कह रहे हैं, ‘सबसे ज्यादा शर्म की बात ये है कि कुछ लोग सड़क पर चलती लड़की के साथ हुई छेड़छाड़ को भी जस्टिफाई करने की औकात रखते हैं. लड़की ने छोटे- कपड़े पहने क्यों, लड़की घर से बाहर गई क्यों? अरे शर्म करो यार… छोटे लड़की के कपड़े नहीं, छोटी आपकी सोच है. भगवान ना करें जो बैंगलूरू में हुआ है वो कभी आपकी बेटी या बहन के साथ हो जाए तो? ये बदतमीजी करने वालो लोग कहीं और से नहीं आए हैं. ये दरिंदे हमारे बीच में ही हैं जिस दिन इस देश की बेटी ने पलट कर जवाब दिया ना उस दिन तुम्हारी अकल ठिकाने आ जाएगी, अकल ठिकाने नहीं सीधे ऊपर सिधार जाओगे. ‘अगली बार आपको कपड़ों पर कोई ज्ञान देने की कोशिश करे तो उससे कहना कि अपनी सलाह अपने पास रखिए, थैंक्यू. जय हिंद’.

[related_posts_by_tax title=”रिलेटेड न्यूज़:” posts_per_page=”3″]
इस न्यूज़ को शेयर करे और कमेंट कर अपनी राय दे.
[addtoany]

Leave a Reply

Your email address will not be published.