Input your search keywords and press Enter.

मंत्री बनने के सवाल पर अशोक चौधरी ने दिया बड़ा बयान, शिक्षा मंत्री कृष्णनंदन वर्मा….

ashok chaudhari
ashok chaudhari

फाईल फोटो


न्यूज़ डेस्क: कांग्रेस के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष महागठबंधन सरकार में शिक्षा मंत्री रहे जनता दल यूनाईटेड के विधान पार्षद अशोक चौधरी ने आज प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कांग्रेस पर जमकर हमला किया है. अशोक चौधरी ने राज्यसभा के लिए कांग्रेस के उम्मीदवार के रूप में चयनित अखिलेश सिंह पर जमकर हमला किया है.

उन्होंने कहा कि मैंने इतने दिनों से कांग्रेस के लिए काम किया है लेकिन आज पार्टी के दुर्भाग्य पर तरस आता है. कुछ लोगों ने पार्टी का सत्यानाश दिया है इस कारण मुझे पार्टी छोड़ना पड़ा. अखिलेश को उम्मीदवार बनाए जाने पर कहा कि कांग्रेस का यह दुर्भाग्य है, जो ऐसे लोगों को बनाया उम्मीदवार बनाया है. गौरतलब है कि कांग्रेस ने अपने प्रत्याशी के नाम की घोषणा कर दी. पूर्व स्पीकर मीरा कुमार, पूर्व मंत्री डॉ. शकील अहमद, सीपी जोशी, जनार्दन द्विवेदी को पछाड़ते हुए अखिलेश प्रसाद सिंह उम्मीदवार बने हैं. राहुल गांधी से कार्यकारी प्रदेश अध्‍यक्ष कौकब कादरी की मुलाकात के बाद अखिलेश सिंह को उम्‍मीदवार घोषित किया गया है. अखिलेश सिंह कादरी एक गुट के माने जाते हैं.

Loading...

अशोक चौधरी को शिक्षा मंत्री बनाए जाने को लेकर सीएम पर लग रहे आरोप और वर्त्तमान शिक्षा मंत्री को हटाये जाने को लेकर सरकार के मंत्री व नेताओं द्वारा हमले से बिहार की सियासत में भूचाल मच गया है. लगातार इस बात की मीडिया में खबरे आ रही है कि अशोक चौधरी को शिक्षा मंत्री बनाया जा सकता है. अशोक चौधरी ने मंत्री बनाए जान के मुद्दे पर खुलकर बोलते हुए कहा कि मैंने मंत्री बनने के लिए जदयू ज्वाइन नहीं किया है. योग्यता है इसका मतलब यह नहीं कि मंत्री बनूँ. शिक्षा मंत्री के कामकाज पर उठ रहे सवाल पर उन्होंने कहा कि शिक्षा मंत्री कृष्णनंदन वर्मा नेक दिल इंसान हैं और वो अच्छा काम कर रहे हैं. हमलावर मंत्री सदस्यों को कहा कि उनको थोड़ा समय दीजिये विभाग बड़ा है. शिक्षा मंत्री बनने के मुद्दे पर कहा कि मैं निगेटिव पॉलटिक्स में विश्वास नहीं करता किसी को गिराकर कर खुद आगे आना मेरा मकसद नहीं.


krishnandan verma

file photo



इस न्यूज़ को शेयर करे तथा कमेंट कर अपनी राय दे.
[shareaholic app=”share_buttons” id=”18820564″]

Leave a Reply

Your email address will not be published.