Input your search keywords and press Enter.

शातिर बब्लू दुबे हत्या कांड के तीनों आरोपी गिरफ्तार, बताई हत्या की पुरी कहानी…


चंपारण बेतिया सतेंद्र पाठक. प0 चंपारण बेतिया में विगत दिनों बेतिया कोर्ट परिसर में शातिर बब्लू दुबे को गोली मार हत्या करने के मामले में 3 अपराधियों को बेतिया एसपी विनय कुमार के नेतृत्व में पुलिस टीम ने मोतिहारी एवं बेतिया से गिरफ्तार किया है। कांड की पुष्टि करते हुए बेतिया एसपी विनय कुमार ने बताया कि 11 मई को बेतिया कोर्ट परिसर में बब्लू दूबे को गोली मारने में तीन की महत्वपूर्ण भूमिका है। जिसमें कुणाल सिंह, सुमन सौरभ एवं विजय कुमार, सूरज मेहता गोली चलाने में थे।

जिसको लेकर मौके वारदात पर मिले सीसीटीवी फुटेज एवं अन्य साक्ष्य के आधार पर इनकी गिरफ्तारी किया गया है। पिपरा थाना निवासी सूरज मेहता, बेतिया पर्वतीया टोला निवासी विजय कुमार एवं सुमन सौरभ को गिरफ्तार किया गया है। पूछताछ में बताया कि ये सभी पूर्व में 5 मई 2017 को भी बेतिया कोर्ट में आये थे। लेकिन माहौल को देखते हुए चले गए। बाद में  फिर वे सभी 11 मई 2017 को बेतिया कोर्ट परिसर में आये।

सुमन सौरभ ने गोली चलाया उसके बाद वह भागने लगा। उस समय सूरज मेहता ने 2 गोली मारा और भाग गया। सूरज मेहता मोतिहारी रिमांड होम में बन्द था। वह मोतिहारी में 9 से अधिक बाइक चोरी किया है। उसी कांड को लेकर रिमांड होम में उसे रखा गया था। वह रिमांड होम से भाग कर घटना को अंजाम देने के बाद फिर वापस रिमांड होम चला गया।

Loading...

लेकिन वहॉ इसे शंका हो गया कि रिमांड होम में बब्लू दूबे के सम्पर्क में भी कई लोग हैं। इसको लेकर वह रिमांड होम से भाग कर घर चला गया। उसे घर से ही गिरफ्तार किया गया है। उसने बताया कि घटना को अंजाम देने के बाद कुणाल सिंह कांड में शामिल हथियार एवं इसके पास 2500 रुपया के साथ इसका मोबाईल भी ले गए। वही इस कांड में मोतिहारी जेल से घटना का प्लान बनाया गया था जिसमें राहुल सिंह, विकास सिंह, छोटाई सिंह आदि ने साजिश रची थी।

वहीं इस घटना को अंजाम देने में इनके अलावा मनीष सिंह, संजय सिंह, सिगरेट भी तीन मोटरसाईकिल से आये थे जिसमे एक अपाची, ग्लैमर एवं एक 100 सीसी का बाइक था। इनके द्वारा बताया गया कि बेतिया के पर्वतीया टोला निवासी नीरज यादव एवं विजय यादव के द्वारा बेतिया में संरक्षण दिया गया था। विजय यादव द्वारा बेतिया राज का जमीन कब्जा कर वहां अपरधियो को संरक्षण दिया जाता है। विजय यादव पर बेतिया मुफसिल थाना में हत्या, जाली नोट, अपहरण सहित कई मामले दर्ज है।

अपराधियों ने घटना को अंजाम देने के पहले मोतिहारी में फायरिंग की प्रैक्टिस भी की थी। सूरज मेहता का यह भी कहना है कि इसने बाद में 2 गोली इस लिए मारा की ग्रुप में बदनामी न हो।बताया कि जब मोतिहारी से चल रहे थे तो गाडी की व्यवस्था में देरी हुई तो सूरज मेहता द्वारा तुरन्त एक अपाची मोटरसाईकिल चोरी किया और बेतिया पहुंच कर घटना को अंजाम दिया। एसपी विनय कुमार ने कहा कि यह घटना वर्चस्व एवं केडिया अपहरण के रूपये के विवाद में किया गया है। आगे भी जांच चल रही है।

साथ ही मोतिहारी रिमांड होम के स्टाफ के ऊपर लापरवाही को लेकर जांच करने के लिए भी लिखा जाएगा।  ज्ञात हो की प0 चंपारण के बेतिया कोर्ट परिसर में शातिर अपराधी बब्लू दूबे की 11 मई 2017 को लगभग 11 से 11:15 बजे  के बिच में अज्ञात अपराधियो ने गोली मार मौत के घाट उतार दिया था ।

[shareaholic app=”recommendations” id=”18820568″]
इस न्यूज़ को शेयर करे और कमेंट कर अपनी राय दे.
[shareaholic app=”share_buttons” id=”18820564″]

Leave a Reply

Your email address will not be published.