Input your search keywords and press Enter.

देखियें मुख्य रूप से इस बजट में क्या मिला…

arun jaitley

arun jaitley

इनकम टैक्स में स्टैंडर्ड डिडक्शन के तहत मिलेगी 40,000 रुपये की छूट.

कृषि उत्पाद तैयार करने वाली 100 करोड़ रुपये तक के टर्नओवर वाली कंपनियों को टैक्स में 100 पर्सेंट की रियायत.

इनकम टैक्स में न्यूनतम छूट की सीमा में कोई बदलाव नहीं.

उद्योग जगत को बड़ी राहत. 250 करोड़ तक के टर्नओवर वाली कंपनियों पर लगेगा 25 पर्सेंट कॉर्पोरेट टैक्स.

गांवों में इंटरनेट के विकास के लिए 10,000 करोड़ रुपये। बनेंगे 5 लाख हॉटस्पॉट.

वरिष्ठ नागरिकों के लिए स्वास्थ्य बीमा पर टैक्स की छूट बढ़कर 50,000 रुपये हुई.

वरिष्ठ नागरिकों के लिए स्वास्थ्य बीमा पर टैक्स की छूट बढ़कर 50,000 रुपये हुई

1 लाख रुपये से अधिक के लॉन्ग टर्म कैपिटन गेन्स पर देना होगा 10 पर्सेंट का टैक्स

म्युचूअल फंड्स से कमाई पर 10 फीसदी टैक्स लगेगा

मोबाइल फोन्स पर कस्टम ड्यूटी को 15 फीसदी से बढ़ाकर 20 फीसदी करने का प्रस्ताव, बढ़ेगा मोबाइल का दम

सभी सरकारी प्रमाण पत्र अब ऑनलाइन होंगे उपलब्ध

गांवों में इंटरनेट के विकास के लिए 10,000 करोड़ रुपये। बनेंगे 5 लाख हॉटस्पॉट

गरीबों को मुफ्त में मिलेगी डायलिसिस की सुविधा.

Loading...

राष्ट्रपति को 5 लाख, उपराष्ट्रपति को 4 लाख और राज्यपाल को मिलेगी 3 लाख रुपये की सैलरी.

अगले दो साल में सरकार बनाएगी 2 करोड़ शौचालय.

100 स्मारकों को आदर्श बनाया जाएगा.

50 लाख युवाओं को नौकरी के लिए प्रशिक्षण दिया जाएगा.

मुद्रा योजना से 10.38 करोड़ लोगों को होगा फायदा.

अनुसूचित जातियों के विकास के लिए 56,619 करोड़ रुपये और जनजातियों के विकास के लिए 39,135 करोड़ रुपये का आवंटन.

महिला कर्मियों के लिए पीएफ कटौती 8 पर्सेंट होगी। हाथ में आएगी ज्यादा सैलरी

50 फीसदी से अधिक आदिवासी वाले ब्लॉकों में नवोदय की तर्ज पर बनेंगे एकलव्य आवासीय विद्यालय.

देश भर में 24 नए सरकारी मेडिकल कॉलेजों एवं अस्पतालों की स्थापना होगी.

10 करोड़ परिवारों को 5 लाख रुपये प्रति साल इलाज के लिए राष्ट्रीय स्वास्थ्य बीमा योजना के तहत मिलेंगे। अभी मिलते थे सिर्फ 30,000 रुपये.

हर साल 1 हजार बी.टेक स्टूडेंट्स को मिलेगी छात्रवृत्ति.

शिक्षकों के लिए एकीकृत बी.एड कोर्स की होगी शुरुआत.

वड़ोदरा में विशिष्ट रेलवे यूनिवर्सिटी की होगी स्थापना.

2022 तक हर गरीब को घर देने का लक्ष्य है। शहरी क्षेत्रों में 37 लाख मकान बनाने को मंजूरी दी गई है.


इस न्यूज़ को शेयर करे तथा कमेंट कर अपनी राय दे.
[shareaholic app=”share_buttons” id=”18820564″]

Leave a Reply

Your email address will not be published.