Input your search keywords and press Enter.

दिवाली के अगले दिन बिहार के इस जिलें में होती है भैस और सूअर की लड़ाई, देख होश उड़ जायेंगे

buffalo pig fight

buffalo  pig fight


शिवहर:-जिले के शिवहर प्रखंड के मिर्ज़ापुर धोबाहि पंचायत के दो यैसे गाँव जहाँ अपनी पूर्वजो की परम्पराओ को निभाते आ रहे है रामपुरयड्ड तथा परराही गाँव. ये परम्परा लगभग सौ सालों से चली आ रही है जिसको आज भी लोग निभाते आ रहे है और वे निभाते रहेंगे ऐसी वाणी वहाँ के ग्रामीणों की है. इस परम्परा को दहरा खेल कहते है।इस खेल का आयोजन सोहराई के दिन अर्थात दिवाली के कल हो कर इस खेल का आयोजन किया जाता है.

इस खेल में दो प्रजाति के जानवर सामिल होते है एक भैंस और दूसरा सूअर. दस दिन पहले से ही लोग चंदा वशुल कर एक सूअर को खरीदते है दिवाली के कल होकर शाम में इस खेल में सभी ग्रामीण अपनी भैस को किसी मैदान में ले जाते है और सूअर को रस्सी में बाधते है कोई व्यक्ति सूअर. को रस्सी के सहारे पकड़ते है तब सूअर को भैस के नजदीक ले जाते है जब भैस अपनी नाको के सहारे सूंघ कर उस पर टूट पर ता है.
Loading...


यह प्रकिया बारी -बारी चलती रहती है यह प्रकिया तब तक चलती है जब तक की सूअर मर नहीं जाता. रामपुरयदु निवासी भगवान प्रसाद यादव बताते है कि मैं 1940 से यह परम्परा देखता चला आ रहा हूँ. मेरे होश के अनुसार मेरे जन्म के 40 वर्ष पूर्व से यह परंपरा चली आ रही है. इस खेल में परराही में भैसो की संख्या 40 और रामपुरयदु में 15 थी. मौके पर देखने के लिए ग्रामीण चन्दन यादव, विनोद प्रसाद यादव, देवेंद्र यादव आदि मौजूद थे.

[related_posts_by_tax title=”रिलेटेड न्यूज़:” posts_per_page=”3″]
इस न्यूज़ को शेयर करे और कमेंट कर अपनी राय दे.
[addtoany]

Leave a Reply

Your email address will not be published.