Input your search keywords and press Enter.

मुख्यमंत्री क्लस्टर विकास योजना में शामिल होगा बांका का सिल्वर फिश उद्योग

d99ccbdf-1106-4025-ad93-d5dabcf73f2c

d99ccbdf-1106-4025-ad93-d5dabcf73f2c

संजीव मिश्रा, भागलपुर/बांका: बांका जिले के लिये एक बड़ी बात सामने आयी है. ना सिर्फ बांका बल्कि मुंगेर जिला अंतर्गत हवेली खड़गपुर वासियों के लिए भी बांका तथा हवेली खड़गपुर का सुप्रसिद्ध सिल्वर फिश उद्योग अब मुख्यमंत्री क्लस्टर विकास योजना में शामिल होगा. फिलहाल यह उद्योग कुटीर उद्योग के रूप में चल रहा है.

बांका के सांसद जयप्रकाश नारायण यादव के प्रयास से इस पर पहल शुरू हो गई है. बांका जिला अंतर्गत कटोरिया प्रखंड के मनिया पंचायत का सिल्वर फिश उद्योग दुनिया भर में प्रसिद्ध है. इसी तरह मुंगेर जिला अंतर्गत खड़गपुर क्षेत्र का सिल्वर फिश उद्योग भी दुनियाभर में ख्याति प्राप्त है. यहां के कारीगर चांदी की मछली का निर्माण घरेलू औद्योगिक स्तर पर करते हैं. लेकिन इनकी मांग दुनिया भर के विभिन्न क्षेत्रों में है और वहां तक चांदी की ये मछलियां जाती भी हैं.

Loading...

आमतौर पर इन मछलियों को उपहार देने या घरों की सजावट आदि के रूप में इस्तेमाल किया जाता है. इन मछलियों के निर्माण में गांव के गांव और परिवार के परिवार लगे हुए हैं. सांसद जयप्रकाश नारायण यादव के पत्र पर तुरंत कार्रवाई करते हुए उद्योग निदेशक, बिहार, पटना ने बांका तथा मुंगेर के महाप्रबंधक, जिला उद्योग केंद्र को इस कारोबार को मुख्यमंत्री क्लस्टर विकास योजना में शामिल किए जाने के उद्देश्य से संभावनाओं का सर्वे करने का आदेश दिया है.

साथ ही बाजार एवं संसाधन उपलब्ध कराने के साथ-साथ समुचित संरक्षण के लिए भी रोडमैप बनाने का निर्देश उन्हें दिया गया है, ताकि इस ख्यातिप्राप्त उद्योग को बढ़ावा दिया जा सके और इसका लाभ इस कारोबार से जुड़े परिवारों को मिल सके. जो भी हो अगर यह मुख्यमंत्री के क्लस्टर विकास योजना में शामिल हो जाता है तक यह बांका एवम मुंगेर जिले के लिए गर्व की बात सावित होगी.

यह भी पढ़ें:
कांग्रेस का यह नेता घूस लेते हुए गिरफ्तार

हाईवे पर पुलिस ने पकड़ी एक बस, अंदर का नज़ारा देख हैरत में पड़ गई पुलिस..…

दर्दनाक सड़क हादसे में मौके पर हुई व्यक्ति की मौत


इस न्यूज़ को शेयर करे तथा कमेंट कर अपनी राय दे.
[shareaholic app=”share_buttons” id=”18820564″]

Leave a Reply

Your email address will not be published.