Input your search keywords and press Enter.

एसबीआई के इस शाखा में बैंक कर्मियों की मनमानी से खाताधारक परेशान


नीरज कुमार, खगड़िया/गोगरी : नोटबन्दी के बाद बैंकों से लेन-देन के लिए कतारों का सिलसिला अब भी जारी है. खासतौर पर जिले के पुराने व प्रमुख बैंकों में खाताधारकों की कतारें लगी हुई है. जहां एक और भारत के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कालेधन व भ्रष्टाचार की मुहिम के तहत नोटबन्दी की घोषणा की लेकिन बैंककर्मियों द्वारा इस घोषणा के बाद ग्राहकों से दुर्व्यवहार कर उनकी साख पर पलीता लगाया जा रहा है.


पीएम नरेंद्र मोदी ने कुछ दिन पहले ही राष्ट्र के संबोधन में कहा था कि बैंक के सभी कर्मचारी खाताधारकों से ठीक से बर्ताव करे. बैंक गरीबों को ध्‍यान में रखकर काम करें. बैंक लोकहित में उचित निर्णय लें. लेकिन बैंक की कर्मचारी के दुर्व्यवहार से ग्राहक हमेशा डरे-सहमे रहते है. रोज की तरह बैंक मे शोर-शराबे के बीच शुक्रवार को एक खाताधारक ( अविनाश कुमार ) जब SBI शाखा रूपये जमा करने 11: 45 AM पहुंचे तो उनके साथ भी कुछ ऐसा ही हुआ. बैंक के कैशियर अरूण कुमार ने खाताधारक के बिना कुछ कहे उन पर बरस गए. जब खाताधारक अविनाश ने कहा कि मैंने सर आपको कुछ भी तो नहीं कहा है, तो कैशियर अरूण और उस पर भावी हो गए और बोले कि मै अब तुम्हारा रूपये जमा नहीं करूंगा, तुम्हें जहाँ जाना है जाओ और मेरी शिकायत करो, चाहे तुम मेरी बैंक मैनेजर के पास जाओ या पीएम नरेंद्र मोदी के पास.

Loading...

SBI बैंक से जुड़े उपभोक्ताओं ने बताया कि बैंक शाखा गोगरी जमालपुर में पदस्थ कैशियर अरूण कुमार सीधे मुंह बात नहीं करते हैं. खातेधारी यदि पास बुक मे इंट्री कराने जाते हैं तो उन्हें आज-कल करके टाल दिया जाता है. यही हाल राशि निकासी को लेकर भी है. कैशियर द्वारा दोपहर 12 बजे से लेन-देन का काम शुरू किया जाता है. जबकि बैंक शाखा में 10.30 बजे से ही उपभोक्ताओं की भीड़ शुरू हो जाती है. जिसके चलते उपभोक्ताओं मे काफी आक्रोश व्याप्त है. उपभोक्ताओं का कहना है कि यदि कैशियर से साधारण रूप से भी लेन-देन को लेकर पूछा जाय तो वह अभद्रता पर उतारू हो जाते हैं.

एक गर्भवती महिला रूबी देवी ने बताया कि मैं इस बैंक का खाता खुलवाने के लिए पिछले 12 दिनों से बैंक का चक्कर लगा रही हूं, लेकिन बैंक से रोज वापस भेजते हुए कल बुलाया जाता है, इस हालत में इतनी दूर से रोज आ पाना संभव नहीं है फिर भी प्रति दिन बैंक का चक्कर लगा रही हूं लेकिन अभी तक खाता नहीं खुल पाया है.

[shareaholic app=”recommendations” id=”18820568″]
इस न्यूज़ को शेयर करे और कमेंट कर अपनी राय दे.
[shareaholic app=”share_buttons” id=”18820564″]

Leave a Reply

Your email address will not be published.