Input your search keywords and press Enter.

केंद्र व राज्य सरकार के गलत कृषि नीति के कारण किसान की स्थिति फटेहाल

b9dcb30a-f6a1-4a7d-abb2-2597c1a6f0ec

b9dcb30a-f6a1-4a7d-abb2-2597c1a6f0ec

कुणाल गुप्ता, समस्तीपुर/दलसिंहसराय: बिहार राज्य किसान सभा के अंचल किसान कौंसिल दलसिंहसराय-विद्यापतिनगर की ओर से किसानों के विभिन्न माँगों को लेकर आज शुक्रवार को दलसिंहसराय प्रखंड पर धरना दिया और प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी की, जिसकी अध्यक्षता विद्यान चंद्र ने किया.

किसानों ने एन.एच-28 सरदारगंज चौक से जुलूस निकाला जो शहर के गोला पट्टी, थाना रोड, 32 नंबर रेलवे गुमटी होते हुये प्रखंड पर पहुँच कर धरना पर बैठ गये. धरना को सम्बोधित करते हुये वक्ताओ ने कहा कि केंद्र व राज्य सरकार के गलत कृषि नीति के कारण किसान की स्थिति फटेहाल है, किसानों की ऐसी हालत में बैंक द्वारा ऋण वसूली एवं गिरफ्तारी का नोटिस भेजा जा रहा है, जबकि एक तरफ कॉर्पोरेट घरानो का कर्जा हर साल माफ किया जा रहा है.

Loading...

अभी खाद्य सुरक्षा में नाम जोड़ने के लिये शपथ पत्र और आवासीय प्रमाण पत्र माँगा जा रहा है, इसमें 200 से 250 रुपये तक का खर्च हो रहा है, जबकि सबूत के लिये आधार कार्ड, पहचान पत्र से भी काम किया जा सकता है. अंचल मंत्री राम सेवक राय ने बताया कि हमारी मुख्य माँगे बैंक द्वारा ऋण वसूली, खाद्य सुरक्षा योजना में शपथ पत्र ना लगाया जाये, किसानों का कर्ज माफी, फसल का डेढ़ गुना दाम देने, पशुपालक किसानों को दुध की कीमत डेढ़ गुना करनें, डेयरी द्वारा फैट और मापी में धाँधली बन्द करनें एवं पंचायत स्तर पर धान का क्रय केंद्र खोलने आदि को लेकर यह धरना दिया जा रहा है. अगर माँगे नहीं पुरी कि गई गई तो हम सड़कों पर आंदोलन करेंगे.

मौक़े पर रामप्रसाद महतो, रामवृक्ष महतो, महेश सिंह, शीतल महतो, नीलम देवी, उमा देवी, रूबी देवी, ललिता देवी, रामनरेश दास, रंजीत राय, अरविंद राय, महेन्द्र सिंह, दिलीप पासवान, अखिलेश राय सहित सैंकड़ों किसान मौजूद थे.

यह भी पढ़ें:
बिग ब्रेकिंग: मधुबनी में सीएम नीतीश के सभा में फिर हुआ विरोध, दिखाए गए काले झंडे….

जदयू ने तेजस्वी से पूछा सवाल, क्या विकास यात्रा के बदले वे करेंगे…

बाल विवाह एवं दहेज प्रथा उन्मूलन के लिये जागरूकता रैली


इस न्यूज़ को शेयर करे तथा कमेंट कर अपनी राय दे.
[shareaholic app=”share_buttons” id=”18820564″]

Leave a Reply

Your email address will not be published.