Input your search keywords and press Enter.

गुजरात में हार के बाद कांग्रेस को अब इस राज्य में लगा तगड़ा झटका पांच विधायकों ने दिया इस्तीफा….

soniya rahul
soniya rahul

file photo


न्यूज़ डेस्क: लगता है कांग्रेस का सितारा इन दिनों गर्दिश में चल रहा है तभी तो गुजरात चुनाव में लाख कोशिशों के वाबजूद सत्ता दूर रह गई. जबकि हिमाचल प्रदेश में उसके हाथ से सत्ता भारतीय जनता पार्टी के हाथों में चला गया. एक एक बार फिर कांग्रेस को तगड़ा झटका लगा है पुर्व्वी भारत में कांग्रेस शासित सरकार के पांच विधायकों ने इस्तीफा दे दिया है.

मेघालय में सत्तारूढ़ कांग्रेस को आज बड़ा झटका लगा है जब डिप्टी सीएम रोवेल लिंगदोह समेत इसके पांच विधायकों ने विधानसभा से इस्तीफा दे दिया. पीटीआई को दिए गए बयान में विधानसभा के प्रधान सचिव एंड्रयू सिमंस ने कहा हाई कि इनके साथ यूनाइटेड डेमोक्रेटिक पार्टी के एक विधायक और दो निर्दलीय विधायकों ने भी सदन से इस्तीफा दे दिया है. इन नेताओं के इस्तीफे के बाद कांग्रेस के वरिष्ठ नेता रोवेल ने बाद में घोषणा की कि इस्तीफा देने वाले सभी आठ विधायक अगले सप्ताह एक रैली में नेशनल पीपुल्स पार्टी में शामिल होंगे. गौरतलब है कि 30 विधायक कांग्रेस के पास हैं 60 सदस्यीय विधानसभा में. इससे पहले भी एक विधायक इस्तीफा दे चुके हैं. ऐसे में अब कुल मिलाकर पार्टी के पास मात्र 24 विधायक रह गए हैं. मौजूदा विधानसभा का कार्यकाल छह मार्च को खत्म हो रहा है और नागालैंड तथा त्रिपुरा के साथ राज्य में अगले साल चुनाव होने वाले हैं.

Loading...

गौरतलब है कि इससे पहले भी मुख्यमंत्री मुकुल संगमा और पार्टी नेतृत्व के खिलाफ ये सभी विधायक बगावत कर चुके हैं. विदित हो कि पांच में से चार कांग्रेस विधायक पहले राज्य मंत्रिमंडल में शामिल थे कथित अयोग्यता को लेकर सीएम ने बर्खास्त कर दिया था. विधानसभा सचिव सिमंस के मुताबिक, आठ विधायकों ने शुक्रवार को अध्यक्ष के कार्यालय में अपना इस्तीफा सौंपा. अध्यक्ष बाहर हैं और वह अपने कार्यालय में मौजूद नहीं थे.’ विधायकों ने अपना इस्तीफा विधानसभा अध्यक्ष अबू ताहिर मंडल को ईमेल के जरिए भेजा.

इस्तीफा देने वाले अन्य विधायकों में रेमिंगटन पिनग्रोप (यूडीपी) और दो निर्दलीय विधायक स्टीफंसन मुखिम और होपफुल बैमन हैं. पत्रकारों से बातचीत में रोवेल ने कहा कि, ‘हम पोलो ग्राउंड्स में चार जनवरी को एक रैली में एनपीपी में शामिल हो रहे हैं.’ उनका कहना था कि पार्टी को छोड़ना मुश्किल भरा फैसला था उन्हें कुछ लोगों के कारण ऐसा करना पड़ा. उन्होंने मुख्यमंत्री पर निशाना साधते हुए कहा कि, ‘मुख्यमंत्री के काम करने के निरंकुश तरीके ने मेरे और अन्य लोगों के लिए सरकार में काम करना मुश्किल कर दिया था.’ सीएम के अलावे प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष पर भी जमकर निशाना साधा है और कहा है कि वो भी सीएम के इशारे पर चलते हैं.


यह भी पढ़ें:
‘पाकिस्तान में जयश्रीराम’ फिल्म पर बिग बॉस फेम मोनालिसा ने कहा नहीं दिखायेंगी स्वामी ओम को….

PM मोदी के खिलाफ खड़े हुए शरद यादव, तीन तलाक पर दिया बड़ा बयान….

बीजेपी में ही मचा घमासान, जेटली ने किया किताब का विमोचन जो मोदी के मौत की आशंका को लेकर उत्तेजित थी….

इस न्यूज़ को शेयर करे तथा कमेंट कर अपनी राय दे.
[shareaholic app=”share_buttons” id=”18820564″]

Leave a Reply

Your email address will not be published.