Input your search keywords and press Enter.

नहीं रहे बिहार सरकार के पूर्व मंत्री शाहिद अली खान, जयपुर में ली अंतिम सांसे

shahid ali khan
shahid ali khan

file photo


मधुरेश, सीतामढ़ी: उत्तर बिहार के लोकप्रिय एवं मृदुभाषी राजनेता व बिहार सरकार के पूर्व मंत्री शाहिद अली खान अब इस दुनिया में नहीं रहे. मिली जानकारी के अनुसार राजस्थान के शहर जयपुर में गुरुवार की रात उनका निधन हो गया. वर्तमान में वे पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी के नेतृत्व वाली हिंदुस्तानी अवाम मोर्चा के राष्ट्रीय प्रवक्ता भी थे.

शाहिद अली खान मूल रुप से सीतामढ़ी जिले के बैरगनिया प्रखंड अंतर्गत अख्ता गांव के रहने वाले थे. उनका निजी आवास सीतामढ़ी शहर के डुमरा में भी है. वे पांच भाइयो में दूसरे नंबर पर थे. उनके अनुज डॉ. साजिद अली खान, ई. तारिक अली खान और बड़े भाई व पूर्व जिला पार्षद खालिद अली खान हैं. उनके पारिवारिक सदस्यों ने बताया कि पूर्व मंत्री राजस्थान के अजमेर शरीफ में माथा टेकने के लिए गए थे. इसी बीच लौटने के दौरान वे जयपुर में रुके थे जहां गुरुवार की रात हृदय गति रुक जाने से उनकी मौत हो गयी. उनके निधन की खबर मिलते हीं सीतामढ़ी समेत सूबे बिहार के राजनैतिक हलके में शोक की लहर दौड़ गई.

Loading...

पूर्व मंत्री अपने पीछे तीन पुत्रियों और पत्नी को छोड़ गए हैं. उन्होंने अपने राजनीतिक जीवन की शुरुआत छात्र आंदोलन से की थी. सन् 1990 में पहली बार सीतामढ़ी विधान सभा से जनता दल के टिकट पर वे विधायक चुने गये थे. फिर, उसके बाद वर्ष 2000, 2005 के दोनों चुनाव और 2010 में सुरसंड और पुपरी से विधायक चुने गए. दस वर्षों तक वे बिहार सरकार में कैबिनेट मंत्री रहे. विधायक रहते वे अल्पसंख्यक कल्याण और विज्ञान प्रावैधिकी, कानून, भवन निर्माण, लघु जल संसाधन व सूचना प्रावैधिकी मंत्री का पदभार संभाल चुके थे. वे 1995 से 2000 तक बियाडा के भी चेयरमैन रहे.

परिजनों ने बताया कि उनका पार्थिव शरीर शुक्रवार को विमान से सीतामढ़ी लाया जाएगा. आम लोगों के दर्शन के उपरांत उनके पार्थिव शरीर को सुपुर्दे खाक किया जाएगा. पूर्व मंत्री शाहिद अली खान के निधन पर पूर्व केन्द्रीय मंत्री डा. अखिलेश प्रसाद सिंह ने गहरा शोक व्यक्त किया है. जारी शोक संदेश में उन्होंने कहा कि शाहिद अली खान बहुमुखी प्रतिभा के लोकप्रिय जननेता थे. उनके निधन से बिहार को अपूर्णीय क्षति हुई है. उधर बिहार सरकार के पूर्व मंत्री डा. महाचंद्र प्रसाद सिंह, ई. अजीत कुमार, हम के नेता वृशिण पटेल , विधायक सचिन्द्र प्रसाद सिंह, पूर्व विधायक राजेश कुमार रौशन उर्फ बब्लू देव, मो. ओबैदुल्लाह, रजिया खातून, कांग्रेस नेता जफरुल्लाह खान समेत कई नेताओं ने पूर्व मंत्री के निधन पर संवेदना जतायी है.


यह भी पढ़ें:
भाजपा नेता की हत्या में एक की हुई गिरफ्तारी

अब दलितों के हित के लिए मांझी जाएंगे महाराष्ट्र, करेंगे यह काम

अपराधियों ने पटना पुलिस के जीरो टॉलरेंस नीति की निकाली हवा

इस न्यूज़ को शेयर करे तथा कमेंट कर अपनी राय दे.
[shareaholic app=”share_buttons” id=”18820564″]

Leave a Reply

Your email address will not be published.