Input your search keywords and press Enter.

शिक्षा का एक मंदिर एक दशक से बना रहा अय्याशी का अड्डा, सोता रहा विभाग


संजीव मिश्रा,बांका: बांका जिले में शिक्षा का एक मंदिर पिछले एक दशक से खुद शिक्षकों की अय्याशी का अड्डा बना रहा और विभाग सोता रहा. पूर्व सांसद पुतुल सिंह ने यह बात बांका जिला अंतर्गत अमरपुर प्रखंड के लौगाईं गांव में यौन शोषण का शिकार हुई छात्रा से मिलने के बाद ग्रामीणों के बीच आज कही. उन्होंने कहा कि आश्चर्य तो इस बात का है की प्रधानाध्यापक द्वारा छात्रा के यौन शोषण की बात उजागर होने के बाद भी आरोपी पर अब तक कोई कारगर कार्रवाई नहीं की गई है.

उन्होंने कहा कि शिक्षा विभाग के अधिकारी सबसे पहले छात्रा के यौन शोषण के आरोपी प्रधानाध्यापक राजीव कुमार को बर्खास्त करें, राजीव कुमार की अविलंब गिरफ्तारी की मांग की. इस दौरान ग्रामीणों ने पूर्व सांसद को बताया कि पिछले एक दशक से लौगाईं हाई स्कूल को प्रधानाध्यापक राजीव कुमार ने अय्याशी का अड्डा बना रखा था. कई शिक्षक भी उसके इस रैकेट में शामिल थे, जिन्हें प्रधानाध्यापक राजीव ने स्कूल में ही पढ़ाई वाला कक्ष आवासीय उपयोग के लिए दे रखा था. पूर्व सांसद पुतुल सिंह ने मौके पर ग्रामीणों के समक्ष ही जिला शिक्षा पदाधिकारी से बात कर यौन शोषण के आरोपी प्रधानाध्यापक राजीव कुमार को अविलंब बर्खास्त करने तथा सभी शिक्षकों को निलंबित करते हुए उन्हें वहां से हटाने तथा शिक्षकों की नई टीम स्थापित करने की मांग की.

Loading...

उन्होंने डीआईजी विकास वैभव से भी बात करते हुए आरोपी को गिरफ्तार करने की दिशा में आवश्यक कदम उठाने की मांग की. उन्होंने कहा कि शिक्षा के मंदिर में अराजकता का माहौल बर्दाश्त नहीं किया जाएगा. डीआईजी विकास वैभब ने कहा के ग्रामीण उन्हें भागलपुर में आकर सारी जानकारी दें वे तुरंत आवश्यक कार्रवाई करेंगे. इस अवसर पर बांका जिला भाजपा की उपाध्यक्ष नीलम सिंह, पूर्व जिलाध्यक्ष अनिल सिंह सहित बड़ी संख्या में पार्टी कार्यकर्ता एवं ग्रामीण उपस्थित थे. समाचार लिखे जाने तक करीब 3 बजे तक यह कार्यक्रम चलता रहा.



इस न्यूज़ को शेयर करे तथा कमेंट कर अपनी राय दे.
[shareaholic app=”share_buttons” id=”18820564″]

Leave a Reply

Your email address will not be published.