Input your search keywords and press Enter.

नए वर्ष का जश्न शराब के साथ मनाना जदयू नेता सह मुखिया जी को पड़ा महंगा, हुई बड़ी कार्यवाई

न्यूज़ डेस्क : बिहार में पूर्ण रूप से लागू शराबबंदी के बाद भी नए वर्ष का जश्न शराब के साथ मनाना एक मुखिया जी और उनके समर्थकों को महंगा पड़ गया है. यह मामला सिवान जिले के दारौंदा प्रखंड के रसूलपुर पंचायत का है. जहां के मुखिया राजकुमार ठाकुर ने नए वर्ष का जश्न मनाने के लिए कबाब के साथ ही साथ शराब के भी पूरे इंतजामात किए थे.

इस पार्टी में मुखिया जी के आलावा पंचायत सेवक और उनके कई भरोसेमंद लोग शामिल थे. पर पिने के बाद सब के सब इतने नशे में चूर हो गए कि किसी ने इनकी सेल्फी शराब के साथ खींचकर ह्वाट्सएप पर वायरल कर दी और इन्हे पता भी नहीं चल पाया. जिसके बाद यह वायरल सेल्फी दारौंदा थाना के प्रभारी थानाध्यक्ष संजीत कुमार के सरकारी नंबर पर चल रहे ह्वाट्सएप पर भी भेजी गई.

Loading...

उसके बाद फोटो में शामिल सभी के लोगों के खिलाफ थाना प्रभारी ने एफआइआर दर्ज कर ली है. जिसके बाद से अब इनकी तलाश की जा रही है. ताकि इन्हे जल्द से जल्द गिरफ्तार किया जा सके. बताया जा रहा है कि मुखिया राजकुमार ठाकुर जनता दल यू के अति पिछड़ा प्रकोष्ठ का दारौंदा प्रखंड अध्यक्ष भी है. वहीँ, शराब के साथ इसकी फोटो वायरल होते ही जदयू जिलाध्यक्ष इंद्रदेव सिंह पटेल ने उसे पद और पार्टी की सदस्यता से बर्खास्त कर दिया है.


इस न्यूज़ को शेयर करे तथा कमेंट कर अपनी राय दे.
[shareaholic app=”share_buttons” id=”18820564″]

Leave a Reply

Your email address will not be published.