Input your search keywords and press Enter.

बीएसएससी प्रश्नपत्र लीक मामले में जीतनराम मांझी ने कर दिया बड़ा खुलासा, दिखाए सबूत!

jitanram manjhi

jitanram manjhi


अजीत कुमार,पटना: बिहार एसएससी घोटाले के मामले में एक नया मोड़ आया है हिन्दुस्तान अवामी मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष और राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री जीतनराम मांझी ने महत्वपूर्ण ख़ुलासा किया है. जीतन राम मांझी ने इसका खुलासा करते हुए कहा है कि बीएसएससी प्रश्नपत्र लीक मामले में जानबूझ कर जाँच की दिशा बदल दी गई है.

मांझी ने सरकार के विशेष सचिव के पत्राचार को दिखाते हुए उल्लेख किया है इस बात की जाकारी पहले ही दे थी इसके लिए इंटरनेट सेवा बंद कर देने की मांग किया था लेकिन सरकार के गृह मंत्रालय ने यह कह कर नकार दिया की यह विधि संवत् नहीं है. इस जाँच में जो दोषी है उनको जानबूझकर बचाया जा रहा है. जीतन राम मांझी ने कहा कि जब पूर्व सुचना दे दी गई थी फिर भी कोई करवाई नहीं किया गया जिससे यह स्पष्ट है की सरकार के लोग शामिल है, गृह विभाग और प्रमंडल आयुक्त की मिलीभगत से हुआ है.

Loading...

मांझी ने कहा कि इसी तरह टॉपर घोटाला के अभियुक्त कई दिन के बाद गिरफ्तार किया गया क्योंकि वह नालंदा और मुख्यमंत्री के करीबी है जबकी परमेश्वर राम को इलाज के दौरान ही गिरफ्तार किया गया. वही राजद के विधायक राज्बलभ यादव को भी कई दिन बाद गिरफ्तार किया गया क्योंकि वह राजद के नेता थे. बिहार सरकार के कई विभाग में भ्रष्टाचार है खुद निगरानी के डीजी ने कहा कहा है यहां की पुलिसिंग भ्रष्ट है इसके अलावे कई विभाग में भी यहीं हाल है. कांग्रेस नेता सिडियुअल क्लास के बच्ची के साथ जो कुकर्म किया वह नैतिक पतन है कांग्रेस का. मेवालाल को जदयू ने सब जानते हुए भी टिकट जानबूझ कर दिया था.

इस न्यूज़ को शेयर करे और कमेंट कर अपनी राय दे.
[shareaholic app=”share_buttons” id=”18820564″]
[shareaholic app=”recommendations” id=”18820568″]

Leave a Reply

Your email address will not be published.