Input your search keywords and press Enter.

लालू को कम सजा देने के लिए जज साहब के सामने उनके वकील ने दी यह दलील….

lalu
lalu

file photo

न्यूज़ डेस्क: आज राजद सुप्रीमों लालू प्रसाद यादव पर चारा घोटाला मामले में दोषी करार दिए जाने के बाद सीबीआई की विशेष अदालत में सजा पर सुनवाई पुरी हो गई है. चारा घोटाले से जुड़े एवं देवघर कोषागार से 89 लाख, 27 हजार रुपये की अवैध निकासी मामले में सीबीआई की विशेष अदालत में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए सुनवाई संपन्न हो गई है.

सीबीआई के विशेष न्यायाधीश शिवपाल सिंह की अदालत में लालू प्रसाद यादव के वकील और पटना हाईकोर्ट के अधिवक्ता चितरंजन सिन्हा ने पूर्व सीएम लालू प्रसाद के स्वास्थ्य सम्बन्धी एक लिखित आवेदन कोर्ट को सौंपा है. वकील ने अदालत को बताया कि लालू यादव का तबियत ख़राब रहता है, उन्हें कई सारी बीमारियां है. डाक्टर के अनुसार उनके साथ एक अटेंडेंट का होना जरुरी है. इसलिए लालू यादव को कम से कम सजा दी जाए. साथ ही अधिवक्ता का कहाँ था कि लालू प्रसाद यादव को जब भी कोर्ट ने बुलाया है तब-तब वो कोर्ट में हाजिर हुए हैं कभी भी कोर्ट का अवमानना नहीं किये हैं. वकील चितरंजन प्रसाद ने लालू यादव के अधिक उम्र एवं स्वास्थ्य का हवाला देकर उन्हें कम से कम सजा दिये जाने का अनुरोध किया अदालत से किया है.

बता दें कि लालू यादव को इस मामले में 23 दिसंबर को ही दोषी करार दिया जा चूका था और सजा सुनाए जाने की तारीख 3 जनवरी निर्धारित की गई थी. पर कोर्ट में कंडोलेंस के कारण उस दिन सजा नहीं सुनाई गई थी. जिसके बाद 4 जनवरी को फैसला आना था पर किसी वजह से सुनवाई 4 जनवरी को भी टाल दी गई थी. सीबीआई की विशेष अदालत ने इस मामले में पूर्व मुख्यमंत्री डा. जगन्नाथ मिश्रा, पूर्व मंत्री विद्यासागर निषाद, बिहार विधानसभा की लोक लेखा समिति के तत्कालीन अध्यक्ष ध्रुव भगत को अदालत ने बरी कर दिया था. हालांकि जगन्नाथ मिश्रा के बरी होने के बाद बिहार की सियासत में ऊबाल आ गया था. इस मामले में लालू प्रसाद समेत 11 आरोपियों की सजा पर बहस पूरी हो चुकी है हालांकि बाकी बचे पांच आरोपियों की सजा पर बहस होनी बाकी है ऐसे में अदालत ने फैसला अगली सुनवाई तक टाल दिया है. लालू के वकील चितरंजन का कहना है कि अदालत शनिवार को दो बजे फैसला सुना सकती है.

Loading...

लालू प्रसाद यादव की आज सजा का एलान को लेकर राजद के कई समर्थक और बड़े नेता रांची पहुंचे हुए थे. अपने नेता और राष्ट्रीय अध्यक्ष का दीदार करने के लिए कोर्ट और जेल के बाहर पहुंचे थे. नेताओं को यह उम्मीद थी कि उनकी सजा पर सुनवाई सीबीआई की अदालत में होगी हालांकि जैसे ही इस बात की खबर मिली कि उनकी पेशी अब वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये जेल से ही हो रही है पार्टी नेताओं और कार्यकर्ताओं के बीच निराशा के भाव चेहरे पर साफ नजर आये. राजद के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष रघुवंश प्रसाद सिंह सीबीआई कोर्ट परिसर में मौजूद थे हालांकि उन्हें भी निराशा हाथ लगा जब यह पता चला कि लालू प्रसाद की पेशी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये ही हो रही है. राजद नेताओं का मानना है कि लालू प्रसाद यादव को तीन साल से कम की सजा होगी और उन्हें जमानत मिल जायेगी.

यह भी पढ़ें:
बिग ब्रेकिंग: चारा घोटाला मामले में लालू यादव की सजा पर बहस हुई पूरी, अब सजा का ऐलान ….

लालू के लिए लड़ेंगे तेजस्वी यादव, कहा लालू जीवन भर लड़ते रहे अब….

बड़ी खबर: वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए हो रही है लालू यादव की पेशी

इस न्यूज़ को शेयर करे तथा कमेंट कर अपनी राय दे.
[shareaholic app=”share_buttons” id=”18820564″]

Leave a Reply

Your email address will not be published.