Input your search keywords and press Enter.

पति,पत्नी और वो की अनोखी कहानी, चचेरा भाई बनकर प्रेमिका के ससुराल पहुंचा युवक, फिर हुई….

शेखपुरा, ललन कुमार : बिहार के शेखपुरा जिले के शेखपुरा थाना क्षेत्र के कमासी गांव में बीती रात पति,पत्नी और वो की अनोखी घटना सामने आई है. घटना यह है कि नालंदा जिला के मोहनपुर गांव की जुली की शादी करीब सात माह पूर्व कमासी गांव के जयचन्द चौधरी के साथ हुई थी. शादी के बाद दोनों पति पत्नी का सब ठीक ठाक चल रहा था. इसी बीच एक दिन मोबाइल फोन से अन्य जगह नं लगाने के क्रम में राजस्थान के स्टील कम्पनी में काम करने वाला एक युवक जितेंद्र का रोंग नम्बर जुली के फोन पर लग गया.

रोंग नं लगने के बाद भी दोनों बातचीत में मशगूल हो गए. दोनों के बीच प्यार पनपता चला गया. प्यार में दीवाने दोनों मोबाइल पर बात करने लगे. दोनों का प्यार परवान पर चढ़ गया. इधर इन सारी घटनाओं से लड़की का पति जयचन्द बेखबर था. लड़की जुली ने फोन के जरिये अपने प्रेमी जितेंद्र को अपने ससुराल कमासी गांव बुला ली. लड़की का प्रेमी जितेंद्र बीते शुक्रवार को देर शाम लड़की का ससुराल पहुंच गया. रात में लड़का जितेंद्र लड़की जुली का चचेरा भाई बनकर रात तो गुजार ली. लेकिन जब सुबह हुई तो वह लड़की जूली की विदाग़री किये जाने की बात जुली के ससुराल वालों को बताई. लेकिन लड़की के पति जयचन्द को जब विदाग़री किये जाने की बात कही गयी तो वह अपने ससुराल मोहनपुर फोन लगाकर बात की पुष्टि कर डाली.

Loading...

वहां से जब जितेंद्र के बारे में लड़की का कोई रिश्तेदार नहीं होने की बात बताई गई तो मानो जैसे लड़के जयचन्द के पैरों के नीचे की जमीन खिसक गई हो. इस बात की भनक जब घर परिवार के साथ ग्रामीणों को हुई तो उनके बीच कोहराम मच गया. आक्रोशित ग्रामीणों ने लड़की के प्रेमी को कब्जे में ले लिया. लड़की को लोग भला बुरा कहने लगे. लड़की ने भी अपने प्रेमी जितेंद्र के साथ जाने की इच्छा जताई. वहीं जितेंद्र ने बताया कि वह बिहार के नालन्दा जिले के रहमान पुर गांव का रहने वाला है. वह राजस्थान में कम्पनी में काम करता है. इस लड़की जुली से फोन लगाने के क्रम में रोंग नम्बर लग गया था तब से उससे दोस्ती हो गयी. लड़की उससे यह कहकर यहां बुलाई की छठ व्रत में उसके मैके से ले जाने को कोई नहीं आ रहा है. आपही मेरा चचेरा भाई बनकर मेरा ससुराल कमासी आ जाइये. वह 18 तारीख को राजस्थान से गया आ गया. फिर बिहार शरीफ आ कर वहां रह गया. इसी बीच वह अपने दोस्त के यहां भी रह. लड़की के यहां 20 ता को 1 बजे अपराह्न पहुंच गया था.

इधर लड़की जुली अपने ससुराल वाले को इस लड़के जितेंद्र के बारे में अपना चचेरा भाई पहले से बतला रखी थी. वह लड़की जुली के साथ विवाह कर उसी के साथ रहने की इच्छा जताई. इधर लड़की जुली ने भी कहा कि वह जितेंद्र के साथ ही रहना चाहती है. जुली का पति जयचन्द ने भी इजाजत दे दी कि यदि उसकी पत्नी अपने प्रेमी जितेंद्र के साथ शादी कर रहना चाहती है उसकी ओर से इसकी इजाजत है. इसी बीच लड़की के पिता भी लड़की जुली के ससुराल पहुंच गए. सारा मामला लड़की जुली के पिता विनोद प्रसाद के सामने था. अंततः लड़की अपने पिता के साथ अपना गांव नालन्दा जिला के मोहन पुर चली आई. बेचारा प्रेमी निराश होकर घटना स्थल से रवाना हो गया. मात्र ढाई माह पूर्व बिना एक दूसरे को देखे ऐसा प्यार मोबाइल फोन के रोग नंम्बर से पनपा की युवक ने अपने जान को जोखिम में डाल अपने प्यार को पाने चचेरा भाई बनकर अपने प्रेमिका का ससुराल जा पहुंचा. शुक्र है कमासी गांव के ग्रामीणों का जिसने दोनों प्रेमी व प्रेमिका में किसी का अहित नही किया. कमासी गांव के बुद्धिजनों ने मामला पुलिस के यहां जाने से बचा लिया.


इस न्यूज़ को शेयर करे तथा कमेंट कर अपनी राय दे.
[shareaholic app=”share_buttons” id=”18820564″]

Leave a Reply

Your email address will not be published.