Input your search keywords and press Enter.

विश्वासघात रैली में बोले सांसद पप्पू यादव, “लालू ने लूटा बिहार”

pappu yadav
pappu yadav

फाईल फोटो


मुकेश कुमार : मधेपुरा के रासबिहारी उच्च विद्यालय मैदान पर आज बुधवार को जन लोक अधिकार पार्टी की तरफ से आयोजित विश्वासघात रैली में बड़ी संख्या में पार्टी कार्यकर्ताओं ने भाग लिया. इस रैली में कोसी और सीमांचल के विभिन्न जगहों से आये पार्टी कार्यकर्ताओं में काफी जोश दिखा. शिक्षा के बाजारीकरण, बेनामी संपत्ति, सरकारी अन्याय व अत्याचार के खिलाफ आयोजित इस रैली में जाप के कई नेताओं ने संबोधित किया.

विश्वासघात रैली में जन अधिकार पार्टी के संरक्षक और मधेपुरा के सांसद पप्पू यादव ने बोलते हुए कहा कि मधेपुरा की धरती ने समाजिक न्याय की इतिहास को लिखा है. इसी धरती से दोबारा फिर से बिहार में सामाजिक न्याय का नेतृत्व किया जाएगा. आजादी के बाद से ही जनता के साथ विश्वासघात होता रहा है.

पिछले 27 वर्षों में बिहार की जनता को साजिश के तहत ठगा जाता रहा है. जनता के साथ विश्वसघात किया जा रहा है. इसके खिलाफ ही पार्टी ने इस रैली का आयोजन मधेपुरा की महान धरती से किया है. अक्‍टूबर महीने तक राज्‍यभर में विश्वासघात रैली का आयोजन किया जाएगा.

इस दौरान पार्टी के लोग जनता को बताएगी कि समाजवाद की राजनीति करने वाले परिवारवाद को मजबूत करने में जुट गये और उनका पूरा राजनीतिक लक्ष्‍य परिवार को सत्‍ता में बनाए रखना हो गया है. विश्वासघात रैली में सांसद ने राजद प्रमुख पूर्व मुख्यमंत्री लालू यादव के परिजनों की संपत्ति की सीबीआई जांच कराने की मांग करते हुए कहा कि लालू यादव ने परिवार के फेरा में पड़कर बिहार का बेड़ा गर्क कर दिया है. शिक्षा के क्षेत्र में बढ़ते लूटखसोट पर भी उन्‍होंने चिंता जताई. उन्होंने मंत्रीयों, विधायकों, सांसदों और अधिकारियों की बेनामी संपत्ति की जांच की मांग भी उठायी है.

Loading...

बेनामी संपत्ति पर बोलते हुए सांसद पप्पू यादव ने कहा कि जिस इंसान को एक साईकिल तक नही था उस इंसान के पास आज आलीशान बंगला, करोड़ो की प्रॉपर्टी कैसे है? वो सम्पत्ति कहाँ से आया? वो सब गरीब का पैसा है. उन्होंने सभा में उपस्थित सब से पूछा कि क्या वो बेनामी संपत्ति आम नही होना चाहिए? तो उपस्थित जनसमूह ने हाथ खड़ाकर हाँ में जबाब दिया.

इसके साथ ही पप्पू यादव ने प्राइवेट डॉक्टर, कोचिंग, प्राइवेट स्कूल, डोनेशन पर अभियंत्रण और मेडिकल में नामांकन पर बोलते हुए कहा कि नीतीश सरकार इस पर तीन महीने के अन्दर लगाम लगा ले नही तो पप्पू यादव और जाप के कार्यकर्ता उन स्थलों पर ताला लगाकर उसे रोकने के लिए जान की बाजी लगा देंगे. हमारी लड़ाई डॉक्टर, शिक्षक आदि से नही है हमारी लड़ाई सिस्टम से है.

[shareaholic app=”recommendations” id=”18820568″]
इस न्यूज़ को शेयर करे और कमेंट कर अपनी राय दे.
[shareaholic app=”share_buttons” id=”18820564″]

Loading…

Leave a Reply

Your email address will not be published.