Input your search keywords and press Enter.

कुशवाहा के चाणक्य ने कहा JDU में मचेगी भगदड़, NDA में बने रहने को लेकर दिया बड़ा बयान…..

nitish nagmani

nitish nagmani


न्यूज़ डेस्क:RLSP के राष्ट्रीय अध्यक्ष सह मानव संसाधन मंत्री उपेन्द्र कुशवाहा के शिक्षा सुधार मानव कतार में राजद के नेताओं की शिरकत के बाद
जनता दल यूनाईटेड के प्रदेश प्रवक्ता अजय आलोक ने उपेन्द्र कुशवाहा पर विवादस्पद बयान दे दिया जिससे बिहार कि राजनीति गरमा गई है. राष्ट्रीय लोक समता पार्टी के(RLSP) के राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष नागमणि ने अजय आलोक के बयान पर कड़ी प्रतिक्रिया दी है जिससे बिहार की राजनीति में हडकंप मचा गया है. कोई भी इस पर बोलने से बच रहा है.

नागमणि ने दिल्ली में पार्टी का अगुआई करते हुए मानव श्रृंखला का आयोजन किया. जदयू प्रवक्ता अजय आलोक के बयान पर नागमणि ने एक फेसबुक लाइव में एक-एक कर जवाब दिया है. नागमणि ने कहा कि हमलोगों ने सभी पार्टीयों को इसमें आमंत्रित किया था लेकिन राजद नेताओं ने इसमें शिरकत किया उनका स्वागत है. अगर NDA के लोग नहीं आये तो इसमें हमारा क्या दोष है. हालांकि नागमणि ने कहा कि उनकी पार्टी NDA का अहम् हिस्सा है और आगे भी रहेगा. रघुवंश प्रसाद के कुशवाहा और मांझी के राजद के साथ जाने के सवाल पर उन्होंने कहा कि NDA और UPA का वोट लगभग बराबर है.


upendra kushwaha rjd leader

उन्होंने कहा कि हमलोगों का दस प्रतिशत वोट कुशवाहा का है इसी पर बिहार की टोटल राजनीति निर्भर करती है. अगर आज हम NDA में हैं तो इधर पलड़ा भारी है अगर UPA में रहेंगे तो उधर पलड़ा भारी रहेगा. उन्होंने कहा कि अगर लाचार हो गए ऐसे में यूपीए के तरफ वोट चला गया तो उसकी सरकार बन जायेगी. उन्होंने कहा कि इसलिए हर कोई हमलोगों और हमारी पार्टी की तरफ देख रहा है आज के तारीख में हम एनडीए में है ये हमारा कमिटमेंट है. उन्होंने कहा कि कुशवाहा जी को तबज्जो कम दिए जाने की बात गलत है क्यूंकि उनके पास मानव संसाधन मंत्रालय जैसा महत्वपूर्ण मंत्रालय दिया गया है मांझी जी की बात है तो वो मांझी जी से पूछा जाना चाहिए.

अजय आलोक के कसाई बकरी वाले बयान पर उन्होंने कहा कि जो बयान जदयू प्रवक्ता दे रहें इसके लिए JDU को होश में रहना चाहिए क्यूंकि उनके पास बिहार में मात्र 1.5 प्रतिशत वोट है हमारे वोट पर इनलोगों का वोटबैंक था उन्होंने कहा कि उपेन्द्र कुशवाहा अलग थे, भगवान् सिंह कुशवाहा और मैं तीनों भाई अलग थे अब एक साथ आ गए हैं एक छतरी के नीचे ऐसे में हमारा जो 10 प्रतिशत वोट है वो एकजुट है.


file photo


नागमणि ने कहा कि मेरा नाम नागमणि है और मैं दुश्मनों के लिए नाग और दोस्तों के लिए मणी हूं. जदयू का बिहार में सिर्फ 1.5% वोट है. उनका इशारा स्पष्ट रूप से सीएम नीतीश के बिरादरी कुर्मी वोट बैंक की तरफ था जिससे सीएम ताल्लुक रखते हैं. उन्होंने कहा कि मानव संसाधन राज्य मंत्री उपेंद्र कुशवाहा के बारे में प्रवक्ता से गलत बयान दिलवाया जा रहा है. उपेंद्र कुशवाहा बकरी नहीं बल्कि बाघ हैं. नागमनी ने कहा है कि बिहार में रालोसपा के बिना कोई भी सरकार अब बनने का सवाल ही नहीं है क्यूंकि हमारा वोट एकजुट और संतुलित है.


ajay-alok nagmani

बीजेपी नेताओं के बयानों पर उन्होंने कहा कि देश के प्रधानमंत्री से लेकर कई राज्यों के सीएम यह मानते हैं कि शिक्षा में भारी सुधार की आवश्यकता है. उन्होंने कहा कि बीजेपी के ही प्रवक्ता ने हमलोगों को समर्थन दिया है. उन्होंने कहा कि कुशवाहा जी शिक्षा मंत्री होते हुए अपने विभाग में कमियों के बारे में उजागर कर इसे दूर करने के लिए प्रयासरत हैं. लेकिन जितने मंत्री है अपने विभाग का बड़ाई करते हैं लेकिन उपेन्द्र कुशवाहा इसके विपरीत सुधार के लिए काम कर रहे हैं.

Loading...

file photo


नागमणि ने इशारों ही इशारों में बीजेपी जदयू पर निशाना साधते हुए कहा कि हम एनडीए में बने हुए हैं लेकिन अगर कोई किसी जबरदस्ती भगा दे तो हमलोग क्या कर सकते हैं. नीतीश कुमार की पार्टी और प्रवक्ता अजय अलोक पर निशाना साधते हुए कहा कि हमलोग उनके मानव श्रृंखला में गए थे लेकिन जब इतने बड़े मुद्दे पर जदयू का प्रवक्ता उलटा-पुलटा हमारे मंत्री जी के बारे में बोलता है तो हम बर्दास्त नहीं कर सकते हैं. नागमणि ने कहा कि मेरा नाम नागमणि है और मैं दुश्मनों के लिए नाग और दोस्तों के लिए मणी हूं. इसलिए सही को सही और गलत को गलत मजबूती से कहते हैं.


nagmani

file photo


उन्होंने कहा कि बीजेपी चरित्र वाली पार्टी है लेकिन jdu के पास अब वोट नहीं है. उन्होंने कहा कि चुनाव आते-आते जदयू में भारी बिखराव होगा क्यूंकि हर विधायक देख रहा है कि हम जीतेंगे किसके वोट पर अगर जिसके पास वोट ही नहीं बचेगा वहां तो भगदड़ मचेगा ही. लेकिन जदयू का अपना मामला है कि शरद यादव और उदय नारायण चौधरी जैसे नेताओं का उसपर हमें कुछ कहना नहीं है. उन्होंने स्पष्ट करते हुए कहा कि हर पार्टी rlsp को अपने पाले में करने की कोशिश में जुटा हुआ है क्यूंकि हमारा वोट बढ़ा है और मजबूत हुआ है. उन्होंने राजद सुप्रीमों लालू प्रसाद यादव का उदाहरण देते हुए कहा कि जिस तरह से लालू यादव का वोट बैंक मजबूत है उसी तरह हमारा वोट बैंक भी मजबूत हो गया है. नागमणि ने बड़ा बयान देते हुए कहा कि चुनाव तक हम एनडीए के साथ है लेकिन चुनाव के वक्त हर पार्टी अपना इंटरेस्ट देखती है. उस समय बात होगी 99 प्रतिशत हम एनडीए के साथ रहने का दावा करते हैं क्यूंकि देश के पीएम नरेंद्र मोदी काफी सुझबुझ वाले हैं.

नागमणि खुद को रालोसपा सुप्रीमों उपेन्द्र कुशवाहा का चाणक्य बताते हैं. NDAमें होने के वाबजूद नीतीश कुमार के खिलाफ कई बार बोल चुके हैं. इससे पहले भी नागमणि ने अपने फेसबुक पोस्ट पर एक पोस्टर लगा कर इशारों ही इशारों में बहुत कुछ कह दिया था. इस पोस्टर में नागमणि जहाँ ‘चाणक्य’ बने हुए नजर आये थे वहीं दुसरी तरफ मंत्री उपेंद्र कुशवाहा को ‘सम्राट चंद्रगुप्त मौर्य’ और सीएम नीतीश कुमार को ‘धनानंद’ बना दिया गया था.


nagmani as Chankya

इतिहास गवाह है कि नन्द वंश का अंत करने में चंद्रगुप्त मौर्य के सहयोग से ही सफलता प्राप्त की थी और सत्ता से उखाड़ फेका था. पोस्टर का सन्देश बहुत कुछ बयान कर गया था और आज फिर कहा है कि बिहार में अगली सरकार बिना रालोसपा के नहीं बन सकता है नागमनी उपेन्द्र कुशवाहा के रणनीतिकारों में से एक है. इससे पहले वो सीएम नीतीश कुमार लालू प्रसाद यादव के साथ काम कर चुके हैं.

दोनों के काफी करीबियों में रह चुके हैं और नीतीश कुमार के हर एक पैतरे से परिचित हैं और लालू यादव की तरह ही समाज के वोट को अपनी तरफ मोड़ने का मद्दा रखते हैं ऐसे में कुशवाहा के ऊपर टिप्पणी को उन्होंने काफी गंभीरता से लिया जिससे जातिगत रंग लगना शुरू हो गया है. जदयू और नीतीश कुमार को फिर से कुशवाहा समाज के विरोधी के रूप भुनाने की चाल चल सकते हैं जिससे न सिर्फ जदयू बल्कि बीजेपी के लिए भी खतरे की घंटी है. बीजेपी विधायक नितिन नवीन और मंत्री प्रेम कुमार ने भी कुशवाहा पर टिप्पणी की है. नागमणि के तेवर और बयान से स्पष्ट कर दिया है कि आने वाला चुनाव बीजेपी और नीतीश कुमार के लिए मुश्किलों भरा हो सकता है. ऐसे में जदयू प्रवक्ता अजय आलोक जैसे प्रवक्ता का बड़बोलापन जदयू की कहीं बिहार में लुटिया न डूबा दे.


यह भी पढ़ें:
कुशवाहा के चाणक्य ने दी JDU को खुलेआम दी धमकी, होश में रहे नहीं तो…..

कुशवाहा के चाणक्य ने दी JDU को खुलेआम दी धमकी, होश में रहे नहीं तो…..

शरद यादव के बाद JDU का यह दिग्गज सांसद और बड़ा नेता पहुंचा बागियों के मंच पर……

इस न्यूज़ को शेयर करे तथा कमेंट कर अपनी राय दे.
[shareaholic app=”share_buttons” id=”18820564″]

Leave a Reply

Your email address will not be published.