Input your search keywords and press Enter.

लोकसंवाद में नीतीश कुमार ने महागठबंधन पर खोला ऐसा राज जो आज तक किसी को नहीं पता था

nitish pc
nitish pc

file photo

नीतीश कुमार आज लोकसंवाद कार्यक्रम के बाद प्रेस कांग्रेस के दौरान मीडिया के हर उन सवालों का जवाब दिया जिसपर हालिया दिनों में बिहार की राजनीति गरमाई रही. नीतीश कुमार ने मांझी-कुशवाहा के जहानाबाद सीट को लेकर चल रही बयानबाजी पर भी बात की.

सबसे पहले जानते है महागठबंधन को लेकर क्या कहा:

महागठबंधन पर नीतीश कुमार ने कहा कि जिस दिन गठबंधन बना था उसी दिन करीबी लोगों को मैने कहा था कि यह गठबंधन एक-डेढ़ साल से ज्यादा नहीं चलेगा.

मांझी कुशवाहा पर कहा कि हम सरकार के मुखिया है गठबंधन के नहीं, गठबंधन सरकार के सहमति से बना है. अपराधिक घटनाओं पर मुख्यमंत्री ने कहा कि क्राइम घटा है बढ़ा नहीं है, क्राइम की रिपोटिंग बढ़ी है क्राइम नहीं, बिहार में क्राइम की स्थिति ठीक हो रही है, इसी को देखते हुए दहेज-बाल विवाह के खिलाफ अभियान. बिहार में क्राइम की खबर नेशनल मीडिया में आता है.

लालू के ट्रायल पर नीतीश कुमार ने कहा कि 20 साल पुराने मामले में ट्रायल चल रहा है, इसके लिए क्या हम लोग जिम्मेदार है, मैने कभी नहीं न्यायालय के फैसले पर कोई टिप्पणी नहीं की. जिन्होने पीआईएल दायर किया उनमें कुछ उनके साथ है. लालू के ट्रायल में मेरी और मोदी की भूमिका नहीं.

Loading...

पकौड़ा तलने के मामले पर भी नीतीश कुमार का आया बयान, कहा कि चुनाव का एक साल बच गया है, सब चलता रहेगा. किसी को तथ्य के आधार पर बयान देना चाहिए. इस तरह के बयान का कोई मतलब नहीं. “केंद्र ने कहा है कि रोजगार सृजन कर रही है.”

नेहरू पर बयान से नीतीश कुमार ने किनारा कर लिया है. कहा कि अलग-अलग लोगों की अलग-अलग राय होती है. देश की आजादी में महापुरूषों का योगदान है. बापू के नेतृत्व में नेहरू और पटेल भी लड़ाई में हुए थे शामिल. उनके योगदान को विलुप्त नहीं किया जा सकता. “लोगों का अपना विचार होता है जिसे वो व्यक्त करते है.”

उपचुनाव नहीं लड़ने पर नीतीश कुमार का आया बयान, कहा कि यह पार्टी का निर्णय है. “प्रदेश अध्यक्ष ने दो दिन पहले बयान दे दिया है.” “सीटिंग सदस्य की मृत्यु के बाद हो रहा है चुनाव” “इसलिए जेडीयू के स्टेट यूनिट ने ये फैसला लिया है” “जेडीयू के किसी सीटिंग मेंबर का डेथ नहीं हुआ”

भागवत के बयान पर नीतीश कुमार ने कहा कि इस मामले पर मै क्या बोल सकता हूं. कोई संगठन सीमा की रक्षा के लिए अपनी तत्परता व्यक्त करता है तो इसमे कोई विवाद नहीं. “मैने पूरा मामला देखा नहीं है.”


इस न्यूज़ को शेयर करे तथा कमेंट कर अपनी राय दे.
[shareaholic app=”share_buttons” id=”18820564″]

Leave a Reply

Your email address will not be published.