Input your search keywords and press Enter.

नीतीश का सूमो सहित मुलायम पर तीखा हमला, ‘युनिवर्सिटी ऑफ सेक्यूलरिज्म’ के वाइस चांसलर हैं?’

IndiaTV_nitish

IndiaTV_nitish

पटना.न्यूज़ डेस्क.
मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने इस चुनावी मौसम में एक और राज खोलते हुए बताया है कि उन्होंने नहीं बल्कि तत्कालीन उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी ने नरेन्द्र मोदी का भोज कैंसिल करवाया था. इसके साथ ही उन्होंने जनता पार्टी न बन पाने के लिए मुलायम को जिम्मेदार ठहराते हुए पूछा कि क्या वो ‘युनिवर्सिटी ऑफ सेक्यूलरिज्म’ के वाइस चांसलर हैं?’

पटना में आयोजित एक कार्यक्रम में शामिल होते हुए नीतीश ने सूमो पर यह आरोप लगाया. उन्होंने बताया कि मोदी की थाली मैंने नहीं सुमो ने छीनी थी. नीतीश के अनुसार उन्होंने पूरी तैयारी कर रखी थी लेकिन सुशील मोदी के चलते भोज रद्द करना पड़ा. सीएम ने उस घटना को याद करते हुए कहा कि सुशील मोदी नरेंद्र मोदी के आगमन के कार्यक्रम का को-ऑर्डिनेशन कर रहे थे. मेरे आवास पर भोज का आयोजन किया गया था. सब तैयार था इसी बीच सुशील मोदी ने मुझसे कहा कि नरेंद्र मोदी भोज में नहीं आ पाएंगे, तब उनके कहने पर ही मैंने भोज रद्द किया था.

Loading...

नीतीश ने कहा कि आज ये लोग प्रचारित कर रहे हैं कि मैंने नरेंद्र मोदी की थाली छीन ली. उन्होंने कहा कि, ‘भाजपा के लोगों को नरेंद्र मोदी का भोज रद्द होने का इतना ही दुख था तो वे लोग मेरे नेतृत्व में चुनाव क्यों लड़े. मैं तो पहले तैयार था इस्तीफा देकर अकेले चुनाव लड़के के लिए, लेकिन तब तो उनलोगों ने कुछ नहीं किया. अब हर जगह भोज रद्द होने का रोना रो रहे हैं.’

इसी कार्यक्रम में नीतीश ने समाजवादी पार्टी मुखिया मुलायम सिंह पर हमला बोला. मुलायम के बारे में उन्होंने कहा कि, “जिस तरह से वो लोगों को सेक्युलर होने का सर्टिफिकेट देते हैं. मुलायम क्या ‘युनिवर्सिटी ऑफ सेक्यूलरिज्म’ के वाइस चांसलर हैं और हम लोग वहां के रिसर्चर? मुझे किसी से सेक्यूलरिज्म का सर्टिफिकेट नहीं चाहिए. मैं जेपी और लोहिया की धरती से आया हूं.”

जनता पार्टी बनाने के मुद्दे पर नीतीश ने कहा कि, ‘मैंने अपनी तरफ से प्रयास किया था, अब जो नहीं हुआ उसपर क्या बात करना. सपा के लोगों ने ही इसमें पैर पीछे खींच लिए थे.’ उन्होंने आगे कहा, ‘मैंने गठबंधन बनाने की बात नहीं की थी, मैंने कई दलों को एक पार्टी बनाने की बात कही थी. महागठबंधन क्यों नहीं ठहरा नहीं बता सकता. जो वातावरण बना था मुलायम को उससे उलट नहीं जाना चाहिए था. बिहार के ऊपर पूरे देश की निगाह है, यूपी की भी है. यूपी के लोगों को भी सपा का यह कदम ठीक नहीं लगा होगा.’

(photo:indiatvnews)

इस न्यूज़ को शेयर करे और कमेंट कर अपनी राय दे.
[related_posts_by_tax title=”रिलेटेड न्यूज़:”]

Leave a Reply

Your email address will not be published.