Input your search keywords and press Enter.

नीतीश कुमार का बड़ा ऐलान, शराबबंदी से सरकार को हुआ इतने हजार करोड़ का बचत

nitish arwal

nitish arwal


मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने अपने निष्चय यात्रा के 9वें चरण में प्रथम दिन कल अरवल जिला के कुर्था प्रखंड अन्तर्गत पींजरावाँ पंचायत के चुलहनबिगहा गाँव पहुंचे और सात निष्चय की योजनाओं का सरजमीं पर क्रियान्वयन देखा. पींजरावाँ पंचायत पहुंचकर मुख्यमंत्री सबसे पहले वहां के लोगों से मिले और हर घर नल का जल, हर घर शौचालय निर्माण, पक्की गली-नाली, हर घर बिजली लगातार योजनाओं का निरीक्षण किया.

मुख्यमंत्री ने कहा कि 1 अपै्रल 2016 से बिहार में शराबबंदी लागू हुई हैं जिससे हमारा समाज शराब मुक्त हो गया हैं कुछ व्यक्ति मादक पदार्थों का सेवन करते हैं जिससे उनका एवं समाज की स्थिति दयनीय हो जाती हैं. 21 जनवरी को मानव शृंखला बनाकर हमने विश्व को ासन्देश दिया हैं कि शराब बंद होने से सभी क्षेत्रों में आशातीत सफलता मिली हैं. हमने निर्धारित 11 हजार कि0मी0 सडकों पर 2 करोड़ व्यक्तियों को शामिल होने का लक्ष्य रखा था लेकिन इसमें 4 करोड़ से भी अधिक लोगों ने सहयोग किया.
Loading...

शराब के सेवन से घरों की गाढ़ी कमी नष्ट हो जाती थी, शराबबंदी होने से घर के मालिक अब सब्जी, दूध, मिठाई आदि लाकर परिवारों का भरण पोषण कर रहे हैं और बच्चों की पढाई पर विशेष ध्यान दे रहे हैं. शराबबंदी होने से 10 हजार करोड़ की राशि बिहार को बचत हुई हैं. शराबबंदी होने से छेना, गुलाब जामुन आदि मिठाइयों की बिक्री पहले से काफी बढ़ गई हैं. परिवार की सुविधा के लिए वे अब कई सामान खरीद रहे हैं. बच्चों की पढाई पर विशेष ध्यान दें रहे हैं. शराबबंदी होने से प्रेम और भाईचारा आपस में बढ़ गया हैं.

[related_posts_by_tax title=”रिलेटेड न्यूज़:” posts_per_page=”3″]
इस न्यूज़ को शेयर करे और कमेंट कर अपनी राय दे.
[addtoany]

Leave a Reply

Your email address will not be published.