Input your search keywords and press Enter.

जिले के एक लाख बच्चे हुए लापता, सरकार परेशान!

children-missing

children-missing

कटिहार. बिहार के कटिहार जिले के सरकारी विद्यालयों में नामांकन करवाए एक लाख छात्र का कोई पता नहीं चल पाया है. इन्हें खोजने के लिए विभाग ज़मीन असमान एक कर रहा है. विभागीय निर्देश के आधार पर सभी बच्चों का आधार पंजीयन करना होता है, लकिन अंतिम समय तक अभी पंजीकरण नहीं हो पाया था.

Loading...

इसे लेकर मुख्यालय स्तर से लगातार मिल रही चेतावनी के बाद नोडल पदाधिकारियों की प्रतिनियुक्ति कर आधार पंजीयन कराने की कोशिश की गई. इतने सारे बच्चो का नामांकन को लेकर लोग इसे धांधली का भी नाम दे रहे, अर्धवार्षिक मूल्यांकन में भी महज 3,78,351 बच्चे शामिल हो रहे हैं. विभागीय स्तर पर शेष बचे बच्चों के आधार पंजीयन को लेकर सक्रियता बरतने को कहा जा रहा है. चालू वर्ष में बिना आधार पंजीयन व बैंक खाता की आधार सीङ्क्षडग के बच्चों को योजना का लाभ नहीं दिया जाएगा.

अभिभावक के संज्ञान के बाद तीन माह का समय दिया गया है. बच्चों का नामांकन वैध और अवैध होने एवं नामांकन रद करने का निर्णय विद्यालय शिक्षा समिति ही ले सकती है. स्कूली बच्चों के आधार की सीङ्क्षडग का काम विद्यालयों में चल रहा है. इसकी अंतिम तिथि के बाद ही यह स्पष्ट हो पाएगा कि कितने बच्चों की आधार सीडिंग बाकी है.


इस न्यूज़ को शेयर करे तथा कमेंट कर अपनी राय दे.
[shareaholic app=”share_buttons” id=”18820564″]

Leave a Reply

Your email address will not be published.