Input your search keywords and press Enter.

पंचायत का शर्मशार करने वाला आदेश : नाबालिग रपे पीड़ित के साथ….

dengue-patient-sedated-gang-raped-twice-by-doctor-and-ward-boy-in-icu

dengue-patient-sedated-gang-raped-twice-by-doctor-and-ward-boy-in-icu


पूर्णिया. बायसी थाना क्षेत्र में एक युवक ने गांव की ही एक 11 साल की बच्ची से रेप किया. पंचायत तुगलकी फरमान जारी करते हुए कहा कि इस मामले में पुलिस थाना में जाने की जरूरत नहीं. जब सात साल बाद पीड़िता बालिग हो जाएगी तब आरोपी उससे शादी कर लेगा. पंचायत में आरोपी ने अपनी गलती स्वीकार कर ली. जिसके बाद पंचायत तुगलकी फरमान जारी करते हुए कहा कि इस मामले में पुलिस थाना में जाने की जरूरत नहीं, जब सात साल बाद पीड़िता बालिग हो जाएगी तब आरोपी उससे शादी कर लेगा.

पीड़िता की नानी के अनुसार, बायसी थाना क्षेत्र में 23 मई को कक्षा छह में पढ़ने वाली 11 वर्षीय एक नाबालिग घर में अकेली थी.घर के सदस्य काम पर गए हुए थे नानी भी जलावन लेने गई थी. घर में लड़की को अकेला देख गांव का ही युवक माणिक कुमार बोसाक पुत्र कालिका बोसाक उसके घर में घुस गया.उस समय नाबालिग छत पर कपड़ा सुखाने गई हुई थी.आरोपी छत पर पहुंचकर उसे जान से मारने की धमकी देकर उसके साथ दुष्कर्म किया. इसी बीच नानी लौट आई और छत पर गई तो आरोपी को उसके साथ दुष्कर्म करते देखा.जब नानी ने शोर मचाया तो आरोपी उसे धक्का देकर भाग गया.

Loading...

परिजनों ने एसपी के पास लगाई गुहार

नाबालिग से रेप और पंचायत में आरोपी को सजा सुनाने का मामला गुरुवार को एसपी के जनता दरबार में पहुंचा. लड़की के मामा और नानी ने एसपी को पूरे घटनाक्रम की जानकारी दी और इंसाफ की गुहार लगाई. लड़की के मामा ने कहा कि आरोपी की उम्र बहुत ज्यादा है.

उन्होंने आरापियों और पंचायत करने वालों का नाम बताते हुए थाना में मामला दर्ज करने और आरोपी को सख्त सजा देने की मांग की.लड़की के मामा ने कहा कि पंचायत करने में गांव के कुछ दबंग चंद्र मोहन डीलर, रामदेव यादव, दयानंद यादव, सत्यनारायण यादव, टीकालाल बोसाक शामिल थे. जिन्होंने स्टांप पेपर पर लिखवाकर आश्वासन दिया कि सात साल बाद आरोपी शादी कर लेगा.एसपी निशांत तिवारी ने परिजनों को न्याय का भरोसा दिया.

इस न्यूज़ को शेयर करे और कमेंट कर अपनी राय दे.
[shareaholic app=”share_buttons” id=”18820564″]

Leave a Reply

Your email address will not be published.