Input your search keywords and press Enter.

बिहार के लोग काला धन छिपाने के लिए लेते है कृ​षि का सहारा

black money2

black money2


पटना.न्यूज़ डेस्क. बिहार के लोग अपना काल धन छिपाने के लिए कृषि का सहारा लेते है. सालाना लाखों रुपये अपनी कृषि आय के रूप में दिखाने वाले बिहार में सैकड़ो लोग है. ऐसे लोग अपनी इनकम पर टैक्स की छूट का फायदा भी उठा रहे है.

चिंताजनक बात यह है कि ऐसे लोगों कि संख्या लगातार बढ़ती जा रही है. वही अगर कृषि क्षेत्र में ग्रोथ की दर को देखा जाए तो 2014 में करीब 10 प्रतिशत की गिरावट दर्ज की गई है. खराब मौसम के अलावा इसके अन्य कारण भी है. अगर 2015 की बात करें ​तो इस दौरान भी कृषि क्षेत्र में ग्रोथ दर कम रही है. 2015 में ग्रोथ रेट भी करीब 12 फीसदी रहा है.

इनकम टैक्स रख रही नजर
अपने काले धन को छिपाने के लिए कृषि का सहारा लेने वाले लोगो का पता आयकर विभाग लगा रही है. बिहार में आयकर रिटर्न दायर करने वालों की संख्या लगभग 4 लाख है. इसमें लगभग 300 लोग ऐसे है जो सालाना 10 लाख या इससे ज्यादा की आय को कृषि का बता रहें है. वहीं 50 लोग ऐसे है जो 20 लाख या इससे ज्यादा की आय को कृषि आय बता रहें है.

Loading...

आयकर विभाग ऐसे लोगो को तलाशने में जुटा हुआ है. खबर है कि पिछले दो सालों में कृषि आय बताने वालों की संख्या बढ़ी है. इसे सरकार को काफी घाटे का सामना करना पर रहा है. फिलहाल जांच पूरी होने के बाद ही यह साफ हो पाएगा कि ऐसे कितने लोग है जो कृषि के आर में अपना काला धन छिपा रहे है.

इस न्यूज़ को शेयर करे और कमेंट कर अपनी राय दे.
[addtoany]

[related_posts_by_tax title=”रिलेटेड न्यूज़:”]

Leave a Reply

Your email address will not be published.