Breaking News
November 13, 2018 - अर्घ्य के समय सीएम नीतीश ने घाटों का किया दौरा, दी शुभकामनाएं
November 13, 2018 - मोदी सरकार ने बताई राफेल की कीमत!
November 13, 2018 - मुख्यमंत्री ने अस्ताचलगामी भगवान भास्कर को किया अघ्र्य अर्पित, पटना के विभिन्न छठ घाटों का भी भ्रमण किया
November 13, 2018 - छठ पर लालू ने दिया संदेश, बताया क्यों है छठ पर्व खास
November 13, 2018 - तेज प्रताप ने वह कर दिखाया जो शायद ही आज तक किसी राज नेता ने किया होगा, जान आप भी करेंगे तारीफ
November 13, 2018 - सुशील मोदी पर फिर पलटवार, DNA वाले बयान पर कहाँ थे
November 13, 2018 - जदयू में एक साथ दोनों विधायक ही कर सकेंगे ज्वाइन,जाने क्यों
November 13, 2018 - बिहार सरकार के इस विभाग में आधे रिक्त हुए पदों पर होगी सीधी भर्ती
November 13, 2018 - बिना फीस के वकील बन रहे सुशील मोदी को रालोसपा का करारा जवाब
November 13, 2018 - मुजफ्फरपुर कांड : अब जब्त होगी ब्रजेश ठाकुर की एनजीओ की संपत्ति

अब राम विलास पासवान ने सवर्णों के लिए उठाई 15% आरक्षण की मांग

शेयर कर और लोगों तक पहुंचाए

ramvilas paswan

सवर्णों के वोट बैंक पर अब सभी ने डोरे डालने शुरू कर दिए है. जी हाँ कांग्रेस सहित कई दलों ने सवर्णों को आरक्षण देने की मांग उठाई है. राम विलास पासवान ने भी गरीब सवर्णों को आरक्षण देने की बात कही है. पटना में रामविलास ने मीडिया से बात करते हुए सवर्ण आरक्षण पर खुलकर अपनी बात रखीं.

रामविलास पासवान ने कहा कि अब खुद वह सवर्णों के आरक्षण की लड़ाई लड़ेंगे. उन्होंने आरोप लगाया कि 6 सितम्बर को बुलाये गये भारत बंद को विपक्षी दलों का समर्थन हासिल था. कांग्रेस तो आज गरीब सवर्णों को 10 फीसदी आरक्षण देने की बात कह रही है मैं तो 15 फीसदी आरक्षण देने की बात कब से कह रहा हूं.

राम विलास पासवान ने कहा कि इतिहास में कई ऐसे सवर्ण हुए हैं जिन्होंने अनुसूचित जाति के हक की लड़ाई लड़ी है. भगवान बुद्ध, स्वामी दयानंद सरस्वती, स्वामी विवेकानंद, वी पी सिंह जैसे प्रबुद्ध लोगों ने इस वर्ग के लिए बहुत कुछ किया. अनुसूचित जाति के बहुत कम नेता हुए जिन्होंने अपने हक के लिए आवाज उठायी. अब मैं भी सवर्णों की लड़ाई लड़ूंगा. सभी वर्गों को आबादी के हिसाब से हक मिलना चाहिए. ऊंची जाति में जो गरीब लोग हैं उनको 15 फीसदी आरक्षण मिलना चाहिए. कांग्रेस जब सत्ता में थी तब उसे ऊंची जांति के बारे में कुछ ख्याल नहीं आया. अब वह 10 फीसदी आरक्षण देने की बात कर रही है.

बता दें कि आज वैशाली के मनहार में एससी-एसटी कानून का विरोध कर रहे युवकों ने केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान के काफिले को घेर लिया. इस दौरान विरोध कर रहे युवकों ने केंद्रीय मंत्री को काले झंडे दिखाए और मुर्दाबाद के नारे लगाए. सुरक्षाकर्मियों ने काफी मशक्‍कत के बाद पासवान के काफिले को हैलीपैड तक पहुंचाया. जानकारी के अनुसार केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान शुक्रवार को बाबा गणिनाथ मंदिर के जीर्णोद्वार कार्यक्रम में शामिल होने वैशाली के महनार आए थे.

शेयर कर और लोगों तक पहुंचाए

About author

Related Articles